महिला अत्याचार के मामलों को अब कांग्रेस चुनावी मुद्दा बनाने की तैयारी में

भोपाल

प्रदेश में महिला अत्याचार के मामलों को  लेकर अब कांग्रेस चुनावी मुद्दा बनाने की तैयारी कर रही है। इसके चलते आज प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में महिला उत्पीड़न निवारण प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्षों और पदाधिकारियों की बैठक आयोजित की गई।

गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों से प्रदेश कांग्रेस और भाजपा नेताओं में महिलाओं के प्रति होने वाले अपराधों को लेकर बयानबाजी तेज हुई है। कांग्रेस जहां मध्य प्रदेश के आंकड़े से भाजपा सरकार को घेर रही है, वहीं भाजपा राजस्थान के आंकड़ों को बता कर कांग्रेस को घेर रही है। बैठक के बाद प्रदेश सरकार के खिलाफ सांकेतिक रूप से प्रदर्शन भी किया जाएगा।

बैठक में जिला अध्यक्षों से उनके यहां पर हुए महिला उत्पीड़न के मामलों की जानकारी साथ लेकर बुलाया गया है। बैठक में तय हुआ कि हर जिले में उनके यहां पर हुए इस तरह के उत्पीड़न के मामलों में सरकार को घेरा जाए। इसके लिए सोशल मीडिया, धरना, प्रदर्शन आदि किया जाए। धरना, प्रदर्शन में जिला कांग्रेस की भी मदद ली जाए। इस बैठक में सज्जन सिंह वर्मा, राजीव सिंह, अशोक सिंह, जेपी धनोपिया सहित अन्य नेता भी मौजूद थे।