छत्तीसगढ़ में 16 जुलाई से लगातार बारिश के आसार, आज 4 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, उमस भरी गर्मी से मिलेगी राहत

 रायपुर .

 छत्‍तीसगढ़ में मानसूनी तंत्र पूरी तरह से सक्रिय हो गया है और इसके प्रभाव से आने वाले दो से तीन दिनों में अच्छी बारिश शुरू होने की उम्मीद है। कुछ क्षेत्रों में तो भारी वर्षा भी संभावित है। प्रदेश के कुछ जिलों में पिछले तीन दिनों से उमस वाली गर्मी से अब राहत मिलने वाली है। मौसम विभाग ने राजनांदगांव, कांकेर, नारायणपुर, बीजापुर में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है, जबकि प्रदेश के बाकी हिस्सों में 16 जुलाई से अच्छी बारिश के आसार हैं।

मौसम विशेषज्ञ एचपी चंद्रा ने बताया कि पश्चिमी हवाएं लगातार पर्याप्त गहराई से आ रही हैं और बादल बन रहे हैं, जिससे प्रदेश में बारिश हो रही है। मौसम विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक गौरेला पेंड्रा मरवाही, बिलासपुर, कोंडागांव, दंतेवाड़ा, बस्तर में आने वाले 24 घंटों के दौरान बारिश हो सकती है। आज कोरिया, गौरला पेंड्रा मरवाही, बिलासपुर, मुंगेली, कबीरधाम, कांकेर, कोंडागांव, नारायणपुर, बीजापुर, सुकमा, दंतेवाड़ा, बस्तर में बारिश की संभावना जताई गई है।

मौसम विभाग का कहना है कि रविवार 16 जुलाई से प्रदेश के सभी क्षेत्रों में लगातार वर्षा के आसार है। वर्षा की गतिविधि बस्तर क्षेत्र से शुरू होकर प्रदेश भर में बढ़ेगी। मालूम हो कि मानसून की लेटलतीफी से प्रदेश में अभी एक जून से लेकर अब तक की स्थिति में 16 फीसद बारिश कम हुई है। आने वाले दिनों में भरपूर बारिश की उम्मीद है।

बुधवार सुबह से ही रायपुर सहित प्रदेश भर में आंशिक रूप से बादल छाए रहे। कुछ क्षेत्रों में हल्की बुंदाबांदी भी हुई। कटेकल्याण 4 सेमी, मरवाही-दंतेवाड़ा-पथरिया 3 सेमी, मनोरा-नारायणपुर-ओरछा 2 सेमी वर्षा हुई। इसके साथ ही प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में हल्की से मध्यम वर्षा हुई।

 

मौसम विज्ञानियों का कहना है कि आने वाले दिनों में प्रदेश भर में मौसम की गतिविधि अब बढ़ने वाली है और भरपुर वर्षा की उम्मीद है। रायपुर के अधिकतम व न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी रही। रायपुर का अधिकतम तापमान 32.4 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 25.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से एक डिग्री सेल्सियस ज्यादा रहा। प्रदेश भर में एआरजीसक्ती में सर्वाधिक अधिकतम तापमान 35.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

यह बन रहा सिस्टम

मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने बताया कि मानसून द्रोणिका मध्य समुद्र तल पर बीकानेर, ग्वालियर, सीधी, गया, बालूरघाट और उसके बाद उत्तर पूर्व की ओर अरूणाचल प्रदेश तक स्थित है। गुरुवार को प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में हल्की से मध्यम वर्षा की संभावना है।प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में बिजली भी गिर सकती है।