एक्सप्रेस-वे पर रॉन्ग साइड, तेज रफ्तार और सुबह नशे में स्कूल बस का ड्राइवर; हादसा नहीं हत्या है!

गाजियाबाद

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर सोमवार सुबह दर्दनाक हादसे में एक ही परिवार के 6 लोगों की मौत हो गई, जबकि 2 गंभीर रूप से घायल हो गए। मेरठ से राजस्थान के सीकर स्थित खाटू श्याम जा रहे परिवार की कार को गाजियाबाद में एक स्कूल बस ने जोरदार टक्कर मार दी। हादसा क्रॉसिंग रिपब्लिक थानाक्षेत्र में हुआ। नोएडा के एक निजी स्कूल की बस सुबह बच्चों को लेने जा रही थी। बताया जा रहा है कि मौत लिए बस गलत लेन में दौड़ रही थी। गाजीपुर से सीएनजी डलवाने के बाद चालक ने बस को दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर रॉन्ग साइड में दौड़ा दी। बताया जा रहा है कि बस का चालक प्रेमपाल नशे की हालत में था। पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है।

गाजियाबाद के एडीसीपी ट्रैफिक आरके कुशवाहा ने बताया कि सुबह करीब 6 बजे दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे पर एक स्कूल बस और एक कार के बीच एक्सीडेंट हुआ है। हादसे में 6 लोगों की मौके पर मौत हो गई, 2 लोग गंभीर रूप से घायल हैं। बस गलत लेन में आ रही थी। गलती बस चालक की है। बस ड्राइवर को पकड़ लिया गया है।

खाटू श्याम जा रहा था परिवार
बताया जा रहा है कि मेरठ के थाना इंचौली के गांव धनपुर का एक परिवार सुबह 4 बजे खाटू श्याम के लिए रवाना हुआ था। कार में चार बच्चे और चार व्यस्क थे। कार जब गाजियाबाद में क्रॉसिंग रिपब्लिक थाना क्षेत्र में पहुंची तो गलत दिशा में आ रही तेज रफ्तार स्कूल बस ने टक्कर मार दी। हादसे में नरेंद्र यादव (45), अनीता (42) बबिता (38), हिमांशु (12), करकित (15), वंशिका (7)की मौत हो गई। धर्मेंद्र यादव (42) और आर्यन (8) गंभीर रूप से जख्मी हैं। नरेंद्र के चचेरे भाई दिनेश पाल ने बताया कि नरेंद्र और धर्मेंद्र खेती करते थे। नरेंद्र बिजली की दुकान भी करता था।