CM चौहान प्रदेश के ढाई लाख संविदा कर्मचारियों के हित में किया बड़ा ऐलान

भोपाल

सावन के पहले दिन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश के ढाई लाख संविदा कर्मचारियों के हित में बड़ा ऐलान कर सकते हैं। वहीं आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और रोजगार सहायकों के सम्मेलन में वेतन भत्ते में फायदे की घोषणा सीएम चौहान ने की थी इसके आदेश भी जारी किए जा रहे हैं।

इसके बाद संविदा कर्मचारियों के बुलाए गए सम्मेलन में इस वर्ग के लिए नियमितिकरण और अन्य सौगातें मिलने की संभावना जताई जा रही है। इसके अलावा युवाओं के लिए सीएम शिवराज ने मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना शुरू कर दी है। इस योजना में 12 वीं या उससे कम पढ़ाई कर औद्योगिक इकाइयों में रोजगार के गुर सीखने वाले युवाओं को 8 हजार और इससे अधिक योग्यता वाले युवाओं को दस हजार रुपए तक स्टायपेंड दिया जाएगा। इसके अलावा संबंधित प्रतिष्ठान में सेवाएं देकर ये युवा भविष्य में रोजगार के अवसर पैदा कर सकेंगे। योजना में 10429 प्रतिष्ठानों को पंजीकृत किया जा चुका है।  

राजधानी के मोतीलाल नेहरू स्टेडियम में होने वाले सम्मेलन में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान संविदा कर्मचारी को 90 प्रतिशत के स्थान पर सौ प्रतिशत वेतन देने और सीधी भर्ती के पदों में कोटा 20 से बढ़ाकर 50 प्रतिशत करने का ऐलान कर सकते है। इस दौरान इन कर्मचारियों को नियमित किए जाने तथा इनके मातृत्व और पितृत्व अवकाश समेत अन्य सेवा शर्तों को लेकर भी घोषणा संभावित है। मुख्यमंत्री सचिवालय ने इसके लिए लोक स्वास्थ्य परिवार कल्याण को नोडल विभाग घोषित किया है और संबंधित विभागों से कर्मचारियों से संबंधित जानकारी मंगा ली है। रविवार को सामान्य वर्ग आयोग के अध्यक्ष शिव चौबे और कर्मचारी कल्याण समिति के अध्यक्ष रमेश चंद्र शर्मा के साथ संविदा कर्मचारी महासंघ के प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री से मुलाकात की थी।

‘मुख्यमंत्री सीखो-कमाओ’ के अभ्यर्थी का  सीएम  शिवराज सिंह ने खुद करवाया रजिस्ट्रेशन
सीएम चौहान ने ‘मुख्यमंत्री सीखो-कमाओ’इस योजना की शुरुआत राजधानी के रविन्द्र भवन में की। राज्य स्तरीय कार्यक्रम में आवेदकों की पंजीयन प्रक्रिया की शुरुआत सीएम चौहान ने की और एक युवा का पोर्टल पर पंजीयन फॉर्म भराया तथा उसे योजना की प्रक्रिया बताई। कार्यक्रम में 1600 युवा शामिल हुए।