CM ने किया G-20 सेवा समिट में सेवा योगियों का सम्मान

भोपाल

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को जी 20 के सेवा सम्मेलन सी 20 में सेवा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले सेवा योगियों का सम्मान किया। कुशाभाऊ ठाकरे अंतर्राष्ट्रीय कन्वेंशन सेंटर में हुए सेवा सम्मेलन सी 20 के समापन समारोह में मुख्यमंत्री चौहान के साथ भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद के अध्यक्ष और भाजपा के पूर्व प्रदेश प्रभारी डॉ विनय सहस्त्रबुद्धे तथा सी 20 शेरपा विजय के नांबियार मौजूद रहे जिन्होंने सेवा योगियों को सम्मानित किया। मुख्यमंत्री ने सेवा के क्षेत्र में प्रदेश की उपलब्धियों और आगामी रणनीति पर अपने विचार रखे।  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि हमें जन्म के साथ ही सेवा का भाव सिखाया जाता है। साथ ही यह भी बताया जाता है कि परहित सरिस धर्म नहीं भाई यानी दूसरों का हित करने से बड़ा कोई धर्म नहीं है। इसलिए बड़े होने के साथ सेवा का भाव पैदा होता है। जब ये भाव मन में आ जाए कि सब मेरे हैं तो सबके लिए काम करना शुरू हो जाता है।

शिवराज ने एमपी में जनता के साथ कायम किया सेवा का रिश्ता-सहस्त्रबुद्धे
इस मौके पर भाजपा के पूर्व प्रदेश प्रभारी व भारतीय सांस्कृतिक परिषद के अध्यक्ष डॉ विनय सहस्त्रबुद्धे ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज ने जनता के साथ सेवा का एक मजबूत रिश्ता कायम किया है। उन्होंने यह भी कहा कि सेवा और सस्टेनेबल डेवलपमेंट को लेकर एक कांफ्रेंस भी जल्द ही की जाएगी। सहस्त्रबुद्धे ने कहा कि सेवा हमारे संस्कारों में है।