ऑपरेशन मानसून : जगदलपुर में जवानों ने नक्सली कैंप को किया ध्वस्त

 नारायणपुर

 नारायणपुर जिले में फोर्स ने नक्सलियों के कैंप को ध्वस्त किया है। मौके से भारी मात्रा में विस्फोटक सामान भी बरामद किया गया है। इसके अलावा एक अन्य जगह से 2 नक्सलियों को भी गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार दोनों माओवादी कई घटनाओं में भी शामिल रहे हैं। ऑपरेशन मानसून के तहत पुलिस की यह कार्रवाई है। बताया जा रहा है कि, अबूझमाड़ के जंगलों में जवान लगातार सर्चिंग कर रहे हैं।

फोर्स को मुखबिर से सूचना मिली थी कि आसनार और भटबेड़ा गांव के जंगल में नक्सली मौजूद हैं। इसी सूचना के बाद धनोरा थाना से DRG एवं ITBP 29वीं वाहिनी ‘‘ई‘‘ कंपनी की संयुक्त टीम को भटबेड़ा और ओरछा थाना से जवानों को आसनार इलाके में नक्सल ऑपरेशन के लिए निकाला गया था। सर्चिंग करते हुए जवानों की एक टीम भटबेड़ा में नक्सलियों के ठिकाने पर पहुंची।

इसी बीच नक्सलियों की संतरी ड्यूटी में तैनात एक मिलिशिया सदस्य ने फोर्स के आने की सूचना बड़े लीडरों को दे दी। हालांकि, जब तक जवान नक्सलियों के कैंप तक पहुंचे तब तक सारे नक्सली अपना सामान छोड़कर भाग निकले थे। जवानों ने नक्सलियों के कैंप को ध्वस्त कर दिया। मौके से विस्फोटक समेत अन्य सामान बरामद किए गए।

ओरछा थाना से निकले जवान जब आसनार गांव के जंगल के नजदीक पहुंचे तो 2 युवक जवानों को देखकर भागने लगे। जिन्हें घेराबंदी कर पकड़ा गया। पूछताछ में इनमें से एक ने अपना नाम दासू कोर्राम और दूसरे ने अपना नाम विजय कोर्राम बताया। जिसके बाद दोनों से पूछताछ की गई तो पता चला कि ये नक्सलियों के मिलिशिया सदस्य के रूप में काम करते हैं। कुछ दिन पहले सड़क काटने की वारदात में शामिल थे। पुलिस ने इन्हें गिरफ्तार कर कोर्ट में पेशकर जेल भेज दिया गया है।