खेल

सनराइजर्स ने मुंबई को 3 रनों से हराया, हैदराबाद की प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीद

मुंबई

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में मंगलवार को बेहद रोमांचक मैच खेला गया. हाई-स्कोरिंग गेम में सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) ने मुंबई इंडियंस (MI) को 3 रनों से मात दी. मुंबई इंडियंस के टिम डेविड (Tim David) ने आखिर में तूफानी पारी खेल मैच का रुख बदलने की कोशिश की, लेकिन वह मैच खत्म नहीं कर पाए.

सनराइजर्स हैदराबाद अंत में जीत गई और उसने अपने प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीदों को अभी भी ज़िंदा रखा है. हैदराबाद ने मैच में पहले बैटिंग करते हुए 193 का स्कोर बनाया था, मुंबई इंडियंस बेहद करीब पहुंची लेकिन जीत नहीं पाई. मुंबई की पारी 190 पर जाकर रुकी और 3 रनों से मैच गंवा दिया.

 

सनराइजर्स हैदराबाद ने इस मैच में जीत के साथ खुद को प्लेऑफ में पहुंचने के लिए ज़िंदा रखा है. सनराइजर्स हैदराबाद के 13 मैच में 6 जीत के साथ 12 प्वाइंट हो गए हैं, उसके नाम कुल 7 हार हैं. प्वाइंट टेबल में अब तीन टीमें ऐसी हैं, जिनके 12 प्वाइंट हैं. लेकिन सनराइजर्स हैदराबाद के लिए मुश्किल ये है कि उसका नेट-रनरेट सबसे कम है. अगर कोलकाता, पंजाब की टीमें बड़े अंतर से हारती हैं और हैदराबाद अपना अगला मैच बड़े अंतर से जीतती है तो नेट-रनरेट का कुछ कमाल हैदराबाद को प्लेऑफ में पहुंचा सकता है.

 

अभी तक गुजरात टाइटन्स की टीम ही आधिकारिक तौर पर प्लेऑफ के लिए क्वालिफाई कर पाई है, बाकी तीन स्थानों के लिए कई टीमों में लड़ाई है. राजस्थान रॉयल्स और लखनऊ सुपर जायंट्स की टीम 16-16 प्वाइंट के साथ दूसरे-तीसरे नंबर पर हैं और दोनों का प्लेऑफ में पहुंचना पूरी तरह से पक्का है. ऐसे में एक स्थान बचता है जिसके लिए कई टीमों की दावेदारी है. अभी दिल्ली कैपिटल्स चौथे नंबर पर है, जिसे अपना अगला मैच मुंबई इंडियंस के खिलाफ खेलना है.

दिल्ली कैपिटल्स अगर उस मैच को जीत जाती है, तो वह प्लेऑफ में पहुंच सकती है. लेकिन उससे पहले रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु-गुजरात टाइटन्स का मैच है, यहां अगर आरसीबी हारती है तो वह टूर्नामेंट से बाहर हो सकती है. अगर जीत जाती है तो प्लेऑफ में पहुंच सकती है. दिल्ली-बेंगलुरु के 14-14 प्वाइंट हैं लेकिन आरसीबी का नेट-रनरेट माइनस में है.

मुंबई इंडियंस के लिए टिम डेविड का कमाल

मुंबई इंडियंस को इस सीजन की सबसे बेहतरीन शुरुआत मिली. कप्तान रोहित शर्मा पूरे रंग में दिखे और उनके एक-एक शॉट में कॉन्फिडेंस झलक रहा था. रोहित शर्मा ने 48 रनों की पारी खेली, भले ही वह फिफ्टी से चूक गए लेकिन 4 छक्के जमाकर उन्होंने फैन्स का दिल जीत लिया. रोहित के अलावा ईशान किशन ने भी 43 रनों की पारी खेली.

मुंबई के लिए आखिरी में असली उम्मीद टिम डेविड ने जगाई. जिन्होंने सिर्फ 18 बॉल में 46 रन बना दिए, जिसमें 4 छक्के शामिल रहे. टिम डेविड ने टी. नटराजन के एक ही ओवर में 26 रन बना डाले थे. लेकिन इसी ओवर में उन्होंने अपना विकेट भी गंवा दिया. मुंबई इंडियंस को आखिरी ओवर में जीत के लिए 19 रनों की जरूरत थी, लेकिन टीम सिर्फ 15 रन ही बना पाई.

राहुल-पूरन ने मचाया धमाल

सनराइजर्स हैदराबाद के लिए एक बार फिर राहुल त्रिपाठी खेवनहार बने. अभिषेक शर्मा के रूप में अपना पहला विकेट जल्दी गंवाने वाली हैदराबाद के लिए राहुल त्रिपाठी, प्रियम गर्ग और निकोलस पूरन ने तूफान मचा दिया. राहुल त्रिपाठी-प्रियम गर्ग के बीच पहले 78 रनों की पार्टनरशिप हुई, फिर राहुल त्रिपाठी और निकोलस पूरन ने 76 रन जोड़े.

राहुल त्रिपाठी ने 76 रनों की पारी खेली, जिसमें 9 चौके-3 छक्के शामिल रहे. निकोलस पूरन ने भी 2 चौके, 3 छक्कों के साथ 38 रन बनाए. कप्तान केन विलियमसन ने इस बार खुद को पांचवें नंबर पर उतारा, क्योंकि वह खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं, ऐसे में यह उनकी ओर से लिया गया सही फैसला था. सनराइजर्स हैदराबाद ने इस मैच में 193 का स्कोर बनाया.