राज्य

जयपाल पूनिया मर्डर केस की सीबीआई जांच कराने को लेकर सरकार को घेरने पहुंचे सांसद हनुमान बेनीवाल

नागौर। जिले के नावां में जयपाल पुनिया हत्याकांड की सीबीआई जांच की मांग को लेकर चल रहा है धरना। इसी धरने के तहत RLP संयोजक व नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल एक हजार वाहनों व हजारों समर्थकों के साथ नावां से जयपुर रवाना हुए। सांसद बेनीवाल 400 गाड़ियों के काफिले के साथ जयपुर पहुंच चुके हैं। वह जयपाल पुनिया हत्याकांड की जांच सीबीआई से कराने के लिए जनदबाव बना रहे हैं। हिस्ट्रीशीटर पुनिया नागौर जिले का नमक व्यापारी था। वह बीजेपी में सक्रिय था।  

मंगलवार को सांसद हनुमान बेनीवाल 400 गाड़ियों के काफिले के साथ जयपुर कूच किए। बेनीवाल के साथ रालोपा के तीनों विधायक भी है। रवाना होने के पहले सांसद हनुमान बेनीवाल ने कहा कि धरना रहेगा जारी रहेगा जब तक कि सरकार जयपाल पूनिया केस में सीबीआई की जांच की परमिशन नहीं दे दी जाती है। रास्ते में कई जगह पुलिस ने उनको रोकने की कोशिश भी की लेकिन पुलिस से कहासुनी के बाद वह आगे बढ़ते गए। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार बेनीवाल के काफिले में शामिल लोग पुलिस के रोकने पर दुव्यर्वहार व अभद्रता पर भी उतारू हो जाते। जोबनेर रोड पर महला के पास पुलिसवालों के साथ अभद्रता की गई और फिर बेरोकटोक काफिला आगे बढ़ चला।

दरअसल, पुनिया हत्याकांड में कांग्रेस सरकार के कुछ करीबी नामों के शामिल होने की चर्चा है। सांसद हनुमान बेनीवाल, इस हत्याकांड के बहाने कांग्रेस की गहलोत सरकार को घेरने में जुटे हुए हैं। वह अब राजधानी तक इस मुद्दे को लेकर पहुंचे हैं। लोगों के साथ जयपुर पहुंचे बेनीवाल ने साफ कहा है कि सरकार सीबीआई जांच की जबतक सिफारिश नहीं करती है तबतक उनका आंदोलन खत्म नहीं होगा।

हालांकि, पुनिया हत्याकांड में पुलिस ने तेजी दिखाते हुए पांच लोगों को अरेस्ट कर लिया है। पुलिस का कहना है कि जांच में शामिल अन्य आरोपियों को भी जल्द अरेस्ट किया जाएगा। लेकिन सांसद हनुमान बेनीवाल का आरोप है कि केस में नामजद कराए गए बड़े नामों को गिरफ्तार नहीं किया जा रहा है। पुलिस सरकार के दबाव में काम कर रही है।