मनोरंजन

ऋचा चड्ढा ने बताया क्यों साउथ के आगे बेहाल है बॉलिवुड, कहा- ये हिंदी सिनेमा वाले लालची लोग हैं

ऐक्ट्रेस ऋचा चड्ढा ने बीते सालों में दोनों फिल्म इंडस्ट्रीज यानी साउथ और हिंदी  में काम किया है। हाल ही में ऋचा ने अपने व्यूज शेयर किए कि हिंदी बॉक्स आफिस के निराश रहने के पीछे क्या कारण हो सकते हैं। उन्होंने टिकट की कीमतों के मामले में अपना सही कलेक्शन किया है। सुपरहिट विजय स्टारर 'मास्टर' पर वह कहती हैं, मेगास्टार की फिल्म को ही देख लें। हिंदी फिल्म इंडस्ट्री और उसके लालची फिल्म सेलर्स जैसे नहीं, बल्कि वहां वे 100-400 रुपये में टिकट रखते हैं, भले ही वह हिट फिल्म हो।

ऋचा चड्ढा ने की बॉलिवुड की टिकट प्राइस पर बात
उन्होंने यह भी कहा कि,  बॉलिवुड में टिकटों की कीमत 400 रुपये से अधिक होने के कारण भी ऐसा होता है। थिएटर टिकट की कीमतों को कम करने की जरूरत है। हाल ही में, एक फिल्म रिलीज हुई थी जो मुझे यकीन है कि जल्द ही ओटीटी पर आएगी और जब पहले दिन इसका कलेक्शन आया, यह उस ऐक्टर की फीस के एक तिहाई से भी कम था। हालांकि, बीते वक्त में साउथ इंडस्ट्री में टिकट प्राइस में भारी उछाल देखने को मिली है। इसे लेकर चेन्नई हाईकोर्ट में एक ममाला भी दाखिल किया गया था। ऋचा ने यह भी कहा कि सिनेमा को जिंदा रखने के लिए 'बड़े टैक्सपेसर्य' को जिम्मेदारी लेने की जरूरत है। पिछले कुछ महीनों में, 'पुष्पा', 'आरआरआर' और 'केजीएफ: चैप्टर 2' जैसी कई फिल्में बॉक्स आॅफिस पर अच्छी कमाई कर रही हैं। रणवीर सिंह की फिल्म 'जयेशभाई जोरदार' जो कल रिलीज होने के लिए तैयार है, कथित तौर पर एवरेज कलेक्शन की उम्मीद कर रही है।