भोपाल

MP में कोरोना की तीसरी लहर की रफ्तार थमने से स्कूल ऑफ लाइन होने की संभावना

भोपाल
मध्य प्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर में संक्रमण दर कम होने से अब स्कूलों में फिर ऑफ लाइन क्लासेस शुरू होने की संभावना है। प्रधानमंत्री आवास ग्रामीण योजना के आज आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस तरह के संकेत दिए हैं। हालांकि अभी 31 जनवरी तक स्कूल पूरी तरह से बंद हैं। मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर में संक्रमण दर लगातार बढ़ने पर इस महीने के प्रारंभ में कई तरह की पाबंदियां लगाई गई थीं। स्कूलों को 31 जनवरी तक बंद करने का फैसला भी हुआ था औऱ अभी भी स्कूल बंद हैं। मगर कुछ दिनों से कोरोना के नए मरीजों की संख्या में लगातार कमी आ रही है और संक्रमण दर भी कम हो रही है। इसके बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पहली बार स्कूलों को दोबारा खोले जाने के संकेत दिए हैं। उन्होंने कहा कि 31 जनवरी तक देख रहे हैं और जब स्कूल खुल जाएंगे तो गरीब बच्चों को किताबें व छात्रवृत्ति भी उनकी सरकार देगी। हालांकि सरकार 31 जनवरी तक कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा कर पाबंदियों में राहत देने या नहीं देने का फैसला लेगी।

आने वाले दिनों में बोर्ड परीक्षाएं भी
गौरतलब है कि मध्य प्रदेश के माध्यमिक शिक्षा मंडल की परीक्षाएं भी अगले महीने में हैं। इसको लेकर स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने हाल ही में कोरोना संक्रमण की समीक्षा के बाद कोई फैसला लेने की बात कही थी। बैतूल में गणतंत्र दिवस समारोह के बाद भी वे यह बात कह चुके हैं।