इंदौर

बर्तन कारोबारी के घर से एक करोड़ रुपये की चोरी मास्टर माइंड निकली बहू

इंदौर
 चंदन नगर पुलिस ने गुमाश्ता नगर में बर्तन कारोबारी के घर से एक करोड़ रुपये की चोरी के मामले का पर्दाफाश कर दिया है। घर की बहू राहुल अग्रवाल की पत्नी माधुरी ने अपने भाई वैभव पिता शंकरलाल निवासी वेंकटेश नगर के साथ मिलकर इस घटना को अंजाम दिया था। बहू ने योजनाबध्द तरीके से घर का दरवाजा खुला रखा था ताकि घर में आसानी से प्रवेश कर माल चुराया जा सके। पुलिस ने 85 लाख रुपये के जेवर भी बरामद कर लिए हैं। जो आरोपितों ने एक पोटली में बांधकर छिपा रखे थे। चोरी में सहयोग करने के लिए पुलिस ने अरबाज पिता याकूब निवासी मोमिनपुरा को भी गिरफ्तार कर लिया है।

मालूम हो कि रोहित और राहुल पिता कैलाश अग्रवाल ने रिपोर्ट दर्ज करवाई थी कि उनके घर में बुधवार शाम को चोरी हो गई। रोहित ने बताया कि रोज की तरह पिता, छोटा भाई राहुल और मैं दुकान पर चले गए थे। घर पर मां कोमल, पत्नी, छोटे भाई की पत्नी और बेटी क्रिशा घर पर थे। दोपहर करीब दो बजे पत्नी किसी काम से बाजार चली गईं थीं। शाम को करीब छह बजे मां की तबियत खराब हुई तो भाभी माधुरी और उनकी बेटी क्रिशा उन्हे अस्पताल ले गई। करीब दो घंटे बाद जब पत्नी और बेटी मां के साथ वापस आई तो देखा कि मुख्य दरवाजे का ताला टूटा है और घर में चोरी हो चुकी है। रोहित ने पुलिस को बताया कि गहने पुराने और पुश्तैनी हैं। ऐसे में उनकी सही कीमत बताना मुश्किल है लेकिन उनकी कीमत एक करोड़ रुपये से अधिक है। इस सनसनीखेज घटना को लेकर शुरू से ही करीबियों पर शक था। उसने शुक्रवार को घर में काम करने वाली सहायिकाओं से ढाई घंटे तक पूछताछ की। इसके साथ ही परिवार के सभी सदस्यों से भी सवाल पूछे।