देश

गंगा नदी में नहाने के दौरान सात बच्चे डूबे, तीन की हुई मौत 

मुंगेर
बिहार के मुंगेर जिले के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के मय तौफिर घाट पर दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है, जहां गंगा नदी में नहाने के दौरान तीन बच्चों की पानी में डूबने से मौत हो गई। बताया जा रहा है कि सात बच्चे जहां गंगा नदी में नहा रहे थे वहां पानी के तेज बहाव होने के चलते भंवर बन रहा था और उसी के चपेट में आने से सातों बच्चे डूबने लगे। बच्चों की चीख-पुकार सुनकर आसपास के लोग नदी में कूदे और डूबरहे चार बच्चों को बचा लिया। लेकिन तीन बच्चे पानी के भंवर में फंस कर डूब गए। मृतक बच्चों की पहचान 12 वर्षीय आदित्य कुमार, 8 वर्षीय प्रेम कुमार और 6 वर्षीय राकेश कुमार के रूप में हुई है। तीनों बच्चे मय सिकंदरपुर के रहने वाले थे। वहीं घटना की सूचना मिलने के बाद जिला प्रशासन से सदर अंचलाधिकारी शशिकांत सुमन घटनास्थल पर पहुंचे। हालांकि काफी देर तक मौके पर गोताखोर नहीं पहुंचे। इसके चलते परिजन अपने स्तर पर तीनों बच्चों के शव की तलाश कर रहे हैं।

 सदर अंचलाधिकारी शशिकांत सुमन ने कहा कि पीड़ित परिवारों को प्राकृतिक आपदा के तहत चार-चार लाख रुपये देने का प्रावधान है। साथ ही जो भी संभव होगा सहायता राशि जिला प्रशासन की तरफ से पीड़ित परिवार को प्रदान की जाएगी। मौत के बाद माराडोना की जिंदगी को लेकर उठा तूफान, लड़की के 'साथ' वाला वीडियो लीक, सनसनीखेज आरोप पिता-पुत्र डूबे वहीं बिहार की राजधानी पटना के मालसलामी थाना क्षेत्र के पीड़दमरिया इलाके के घाट पर गंगा में डूब रहे बेटे को बचाने के लिए पिता ने छलांग लगा दी। लेकिन दोनों ही डूब गए। बताया जा रहा है कि अष्टमी की पूजा के लिए मिट्टी लेने पिता के साथ बेटा गंगा किनारे गया था। गंगा नदी में नहाने के दौरान बेटा नदी की गहराई में चला गया और उसे डूबता देख पिता ने नदी में छलांग लगा दी। इस पर वह भी डूबने लगा। इससे पहले की लोग कुछ समझ पाते तब तक दोनों गहराई में समा गए। गंगा में डूबे व्यक्ति की पहचान 40 साल के संजय कुमार चौरसिया के रूप में हुई है। नदी में डूबा उनके बेटे क्रिस की उम्र 15 साल थी।