इंदौर

उज्जैन पुलिस ने गुंडों के मकान को किया जमींदोज

उज्जैन

उज्जैन में पुलिस सोमवार को तीन गुंडों के घर कार्रवाई करने पहुंची। इनमें से दो के मकान तो जमींदोज कर दिए, लेकिन तीसरे फरार गुंडे के घर पर उसकी बूढ़ी मां मिली। पुलिस के पास जो पता था, वहां केवल एक झोपड़ी थी। इसमें उसकी मां रहती है। झोपड़ी काफी जर्जर हो चुकी है। गुंडे की 70 वर्षीय मां ने मिन्नतें कीं तो पुलिस ने चेतावनी देकर छोड़ दिया।

सोमवार की सुबह सबसे पहले पुलिस कुत्ता बावड़ी पहुंची। यहां विजय बरगुंडा के घर पर JCB चलाई। उसके मकान पर टीनशेड था। इस वजह से निगमकर्मियों को मकान तोड़ने में जरा भी देर नहीं लगी। CSP पल्लवी शुक्ला ने बताया कि आरोपी विजय और उसके भाई पर दो दर्जन से अधिक मामले दर्ज हैं। मारपीट, शराब बेचना, मादक पदार्थों की तस्करी, जानलेवा हमले जैसे संगीन अपराध भी शामिल हैं।
 

पुलिस यहां से ही महाकाल क्षेत्र में ही पानदरिबा पहुंची। यहां कुख्यात गुंडे निर्मल चौरसिया उर्फ बलवट का कच्चा घर तोड़ा गया। बलवट पर आरोप है कि उसने अपने परिवार की महिलाओं को भी हवस का शिकार बनाया था। बलवट पर 34 से अधिक केस थाना महाकाल, थाना देवास गेट और थाना खारकुंआ में दर्ज हैं।

बताया जा रहा है कि पुलिस कार्रवाई के डर से बलवट ने कुछ समय पहले ही अपने ही क्षेत्र के एक परिवार को मकान का एक हिस्सा बेच दिया था। उसके घर पर केवल टीनशेड मिला। उसने बिजली कनेक्शन भी अवैध ले रखा था।

आज की गयी कार्यवाही में दो थानों का पुलिस बल सहित CSP और TI मुनेंद्र गौतम ने मोर्चा संभाल रखा था। बड़ी संख्या में नगर निगम के अधिकारी भी इस कार्रवाई में शामिल रहे।