भोपाल

इंजीनियरिंग में प्रवेश लेने बीस हजार विद्यार्थियों ने कराया पंजीयन, एनआरआई में जीरो दाखिले

भोपाल
तकनीकी शिक्षा विभाग वर्तमान सत्र 2021-22 में प्रदेश के 144 इंजीनियरिंग कालेजों में प्रवेश लेने प्रथम चरण की काउंसलिंग के पंजीयन पर विराम लगा दिया गया है। वर्तमान सत्र में 48 ब्रांच में प्रवेश लेने करीब बीस हजार विद्यार्थियों ने ही अपना पंजीयन कराया है। पंजीकृति विद्यार्थी कल तक अपना सत्यापन और च्वाइस फिलिंग कर पाएंगे। विभाग 51 हजार 500 सीटों प्रवेश देने तीन अक्टूबर को आवंटन किया जाएगा।

डीटीई ने राज्य के सभी 144 शासकीय, स्वशासी, अनुदान प्राप्त, स्ववित्तीय और निजी इंजीनियरिंग कालेजों में बीई, बीटेक के 48 ब्रांच में प्रवेश देने काउंसलिंग शुरू कर दी है। प्रथम राउंड में प्रवेश लेने जेईई मैंस में मेरिट हासिल करने वाले करीब बीस हजार विद्यार्थियों ने पंजीयन किया है। उक्त विद्यार्थियों ने सामान्य पूल और टीएफडब्ल्यू की सीटों पर प्रवेश लेने संयुक्त रूप से च्वाइस फिलिंग किया है। विभाग उनकी मेरिट 29 सितंबर को दोपहर तीन बजे जारी करेगा। तीन अक्टूबर को आवंटन होगा और विद्यार्थी दस अक्टूबर तक प्रवेश ले पाएंगे। दूसरे चरण की काउंसलिंग में 19  अक्टूबर तक क्वालीफाई मेरिट के आधार पर प्रवेश होंगे। दोनों राउंड में विद्यार्थियों को ब्रांच अपग्रेडेशन का मौका दिया जाएगा। इसके बाद 21 से 25 अक्टूबर तक कालेज स्तर काउंसलिंग (सीएलसी) का आयोजन होगा। कालेज स्तर पर होने वाली काउंसलिंग में दोनों राउंड के बार ही प्रवेश होंगे के कयास लगाये जा रहे हैं।

एनआरआई के जीरो प्रवेश
सूबे की इंजीनियरिंग कालेजों में एक भी एनआरआई विद्यार्थियों ने प्रवेश नहीं लिया है। एनआरआई काउसिलिंग में सिर्फ चार विद्यार्थियों ने पंजीयन कराया है, जिन्हें सोमवार को डीटीई के काउंसलिंग में सेल में उपस्थित होकर प्रवेश प्रक्रिया में भागीदारी करना था, लेकिन पंजीकृत विद्यार्थी सम्राट अशोक टेक्नालाजी आफ इंस्टीट्यूशन (एसएटीआई) और माधव इंस्टीट्यूट आफ टेक्नालाजी (एमआईटी) की करीब साठ सीटों पर प्रवेश लेने ही नहीं पहुंचे। एक दशक में यह पहला मौका है। जबकि एनआरआई की सीटों में एक भी प्रवेश नहीं हुआ है। जबकि एक दशक में दो दर्जन से ज्यादा विद्यार्थियों ने प्रवेश लिया है। वर्तमान में नाईजीरिया, साउदी अरब, इंडोनेसिया, कुबेत, ओमान, थाईलैंड, साउदी अरेबियन, यूएई, कतार, आबुधाबी, बेहरीन, सिंगापुर और बांग्लादेश के विद्यार्थी सूबे के कालेजों में अध्ययनरत हैं।