देश

उत्तराखंड सीएम पुष्कर धामी का छात्रों को तोहफा, लॉन्च किया ज्ञानवाणी चैनल 

देहरादून
प्रदेश में स्कूलों में आफलाइन पढ़ाई शुरू हो चुकी है, लेकिन छात्र-छात्राओं को पढ़ाई के बेहतर अवसर मुहैया कराने के लिए आनलाइन माध्यम को मजबूत बनाने की मुहिम जारी रखी जाएगी। इस कड़ी में सोमवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने ज्ञानवाणी चैनल की वर्चुअल शुरुआत की। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि ज्ञानवाणी चैनल की सार्थकता तब होगी, जब दूरदराज क्षेत्रों में बच्चों और समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को इसका लाभ मिले।

 मुख्यमंत्री आवास पर आयोजित हुए कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने कहा कि छात्र-छात्राओं को आनलाइन शिक्षण अधिगम से लगातार जोड़े रखने को शिक्षा विभाग और जियो ने मिलकर नए आनलाइन एजुकेशन चैनल ज्ञानवाणी-एक और ज्ञानवाणी-दो शुरू किया है। यह अच्छा प्रयास है। आनलाइन शिक्षण को ध्यान में रखकर शुरू किए गए इस चैनल का लाभ राज्य के सभी बच्चों को मिलना चाहिए। कोरोना काल में आनलाइन शिक्षण के लिए कई सराहनीय प्रयास किए गए। स्कूलों में कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए सभी शैक्षणिक गतिविधियां चल रही हैं। 

ज्ञानवाणी से ई-विद्या कंटेंट भी हो प्रसारित: पांडेय शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने कहा कि कोविड के दौरान आनलाइन शिक्षण का प्रचलन शुरू हुआ। उन्होंने ज्ञानवाणी चैनल के माध्यम से पीएम ई-विद्या के कंटेंट को भी प्रसारित करने का सुझाव दिया। यह कंटेंट एनसीईआरटी पाठ्यक्रम पर आधारित है। शिक्षा सचिव राधिका झा ने कहा कि आफलाइन शिक्षा के साथ बच्चों को आनलाइन माध्यम से शैक्षणिक गतिविधियों से जोडऩे के प्रयास किए जा रहे हैं। 

ज्ञानवाणी-एक प्राथमिक कक्षाओं और ज्ञानवाणी-दो माध्यमिक कक्षाओं के लिए चलाया जा रहा है। धारचूला में 4जी कनेक्टिविटी जल्द जियो के मुख्य कार्यकारी अधिकारी विशाल अग्रवाल ने बताया कि समग्र शिक्षा अभियान से जुड़े सभी स्वैच्छिक संगठन भी शिक्षा विभाग के माध्यम से ज्ञानवाणी में कंटेंट का प्रसारण कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि जल्द पिथौरागढ़ जिले के सीमांत क्षेत्र धारचूला में जियो की 4जी कनेक्टिविटी शुरू की जाएगी। इस अवसर पर शिक्षा महानिदेशक बंशीधर तिवारी, मुख्य शिक्षा अधिकारी डा मुकुल कुमार सती, जियो के राज्य समन्वयक दीपक सिंह एवं वर्चुअल माध्यम से सभी मुख्य शिक्षाधिकारी एवं प्रधानाचार्य मौजूद थे।