उत्तरप्रदेश

भाई के सपा में शामिल होने पर बीजेपी सांसद की सफाई, कहा-मेरा कोई लेना देना नहीं

 गोरखपुर  
भारतीय जनता पार्टी नेता और राज्य सभा सदस्य जयप्रकाश निषाद के भाई जितेंद्र निषाद ने समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर ली है। सोमवार को यह खबर आने के बाद सपा नेताओं ने जहां बधाइयां देनी शुरू कर दी वहीं राज्यसभा सदस्य ने कहा है कि उनके भाई से उनका कोई लेना-देना नहीं है।
समाजवादी पार्टी द्वारा सोशल मीडिया पर यह प्रचारित किया गया कि सामजवादी विचारधारा और अखिलेश यादव के नेतृत्व में आस्था जताते हुए गोरखपुर से भाजपा के राज्यसभा सांसद के छोटे भाई जितेंद्र निषाद, गोरखपुर बार एसोसिएशन के पूर्व संयुक्त मंत्री अधिवक्ता सुशील चंद्र साहनी, महराजगंज जिले की फरेंदा विधानसभा क्षेत्र से पूर्व बसपा प्रत्याशी बेचन निषाद ने पार्टी की सदस्यता ग्रहण की है। इसके साथ ही पार्टी ने सोशल मीडिया पर एक तस्वीर भी साझा की है जिसमें अखिलेश यादव के साथ जितेंद्र निषाद, पूर्व विधायक विजय बहादुर यादव और सपा के पूर्व महानगर अध्यक्ष जफर अमीन डक्कू भी मौजूद हैं।

यह खबर सोशल मीडिया पर आने के बाद सपा के निवर्तमान जिलाध्यक्ष नगीना प्रसाद साहनी और अन्य सपा नेताओं और कार्यकर्ताओं ने बधाइयां देनी शुरू कर दीं। इस सम्बंध में ‘हिन्दुस्तान’ ने राज्यसभा सदस्य जयप्रकाश निषाद से फोन कर बात की। उन्होंने कहा कि उनके भाई अलग रहते हैं। वह क्या करते हैं उनसे उनका कोई लेना देना नहीं हैं।