देश

तीसरी लहर का कम हुआ डर?  केरल में खत्म हो गया है कोरोना का पीक: एक्सपर्ट   

नई दिल्ली 
बीते कुछ दिनों से देश में जिस तरह से कोरोना वायरस के मामलों में गिरावट नजर आ रही है, उसकी वजह है कि केरल से कोरोना का पीक गुजर चुका है। हेल्थ एक्सपर्ट की मानें तो केरल में कोरोना वायरस का पीक खत्म हो गया है। यही वजह है कि बीते चार दिनों से देश में कोरोना केसों की संख्या 30 हजार से नीचे दर्ज की जा रही है। कोरोना के पीक में जहां केरल में रोजाना 25 से 30 हजार नए केस मिलते थे, वहीं आज इसकी संख्या आधी कम हो गई है। मंगलवार को केरल में कोरोना के 15876 नए केस दर्ज किए गए।

एम्स के प्रोफेसर डॉ संजय राय ने कहा कि बीते दो-तीन महीने में कोरोना वायरस के फैले डेटा को देखने से पता चलता है कि केरल में कोरोना का पीक खत्म हो गया है और अगले दो सप्ताह के भीतर केसों की संख्या में बड़ी गिरावट नजर आने लगेगी। उत्तर-पूर्व के राज्यों की तरह केरल में अक्टूबर की शुरुआत तक कोविड-19 के मामलों में गिरावट शुरू हो जानी चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि केरल में पहले सीरो सर्वेक्षण ने सुझाव दिया था कि अधिकांश आबादी अतिसंवेदनशील थी मगर लेटेस्ट सीरो सर्वेक्षण से पता चलता है कि 46 प्रतिशत में टीके या संक्रमण के कारण एंटीबॉडी मौजूद हैं। उन्होंने कहा कि राज्य द्वारा किए गए नियंत्रण उपाय केवल वायरस के प्रसार को धीमा करते हैं।
 
कोरोना पर भारत बना अफवाहों का गढ़, सोशल मीडिया से फैलीं भ्रांतियां
सितंबर के पहले सप्ताह के दौरान एक दिन में 30,000 से अधिक कोरोना के केस मिलते थे, मगर अब इस संख्या में काफी कमी आई है। मंगलवार को केरल ने 15,876 मामले दर्ज किए, इससे तरह से केरल में कुल केसों की संख्या 44,06,365 पहुंच गई। केरल के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या दो लाख अंक (1,98,865) से नीचे आ गई है। वहीं, मंगलवार को ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 25,654 रही। इस तरह से कोरोना से ठीक हुए लोगों की संख्या 41,84,158 हो गई।