इंदौर

को-ऑपरेटिव इंस्पेक्टर प्रदीप तोमर रिश्वत लेते गिरफ्तार

इंदौर
इंदौर में लोकायुक्त पुलिस ने सोमवार को को-ऑपरेटिव डिपार्टमेंट के सीनियर इंस्पेक्टर को 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। सीनियर इंस्पेक्टर का नाम प्रमोद तोमर है। DSP प्रवीण सिंह बघेल ने बताया कि तोमर के पास तिलक नगर गृह निर्माण सहकारी साख संस्था के एक गड़बड़ी के मामले की जांच थी। इसमें संस्था के तत्कालीन अध्यक्ष और संचालक मंडल को गड़बड़ियां मिली थीं। इस पर अध्यक्ष को आरोपी बनाने से बचाने के लिए प्रदीप तोमर ने रुपयों के लिए दबाव बनाने लगा।

हाल ही में उसने संस्था अध्यक्ष दिलीप बौरासी से इसे लेकर डील शुरू की। सौदा 15 हजार रुपए में तय किया। अध्यक्ष दिलीप बौरासी ने सीनियर इंस्पेक्टर प्रमोद तोमर को 5 हजार रुपए दिए। बाकी 10 हजार रुपए के लिए तोमर दबाव बनाने लगा। इस पर अध्यक्ष ने लोकायुक्त पुलिस को शिकायत की, जिस पर सोमवार को उसे पकड़ने के लिए टीम तैयार हो गई।

दोपहर करीब 2 बजे जब तोमर ने अध्यक्ष को बुलाया और 10 हजार लिए तभी टीम ने उसे रंगेहाथ पकड़ लिया। पता चला है कि प्रदीप तोमर ने इसके पूर्व भी कई संस्था संचालकों को परेशान कर उनसे काफी रुपए ऐंठे हैं।