राजनीति

BJP की हार के बाद ऐक्शन, जयंत मलैया को नोटिस, बेटे सिद्धार्थ सहित 5 को दिखाया पार्टी से बाहर का रास्ता

दमोह
दमोह विधानसभा उपचुनाव के नतीजे आने के पांच दिन बाद बीजेपी ने बड़ी कार्रवाई करते हुए वरिष्ठ पार्टी नेता जयंत मलैया को नोटिस जारी किया है। पार्टी ने उनके बेटे सिद्धार्थ मलैया सहित पांच मंडल अध्यक्षों को पार्टी से बाहर कर दिया है। बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष वी डी शर्मा ने पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण यह कार्रवाई की है। दमोह विधानसभा से सात बार विधायक रह चुके जयंत मलैया पर उपचुनाव में पार्टी उम्मीदवार के खिलाफ काम करने के आरोप हैं।

17 हजार वोटों से हुई थी हार
उपचुनाव में बीजेपी उम्मीदवार राहुल लोधी को कांग्रेस के अजय टंडन ने करीब 17 हजार वोटों से हराया था। नतीजे आने के बाद बीजेपी उम्मीदवार ने जयंत मलैया पर भीतरघात का आरोप लगाया था। इस पर मलैया ने कहा था, वे अपना पक्ष पार्टी के सामने रखेंगे।

इन मंडल अध्यक्षों को दिखाया बाहर का रास्ता
जिन पांच मंडल अध्यक्षों को पार्टी से बाहर किया गया है, उनमें अभाना मंडल अजय सिंह, दीनदयाल नगर मंडल संतोष रोहित, दमयंती मंडल मनीष तिवारी, बांदकपुर मंडल अभिलाष हजारी व बॉसा मंडल देवेन्द्र सिंह राजपूत हैं। सिद्धार्थ मलैया सहित इन सभी नेताओं को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर 10 दिन में जवाब मांगा गया है। जयंत मलैया को प्राथमिक सदस्यता से निलंबित नहीं किया गया है, लेकिन उन्हें भी 10 दिन के अंदर जवाब देने का निर्देश दिया गया है।

सीएम की कैंपेनिंग पर भी फिरा पानी
बीजेपी ने दमोह उपचुनाव में जीत के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक दी थी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित उनकी कैबिनेट के कई मंत्री और प्रदेश अध्यक्ष वी डी शर्मा ने दमोह में कई दिनों तक कैंप किया था। इसके बावजूद नतीजे पार्टी के पक्ष में नहीं रहे। नतीजे आने के बाद से ही भीतरघात करने वाले नेताओं के खिलाफ कार्रवाई की आशंका जताई जा रही थी।