व्यापार

डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर जयंती: आज शेयर बाजार में नहीं कर सकेंगे कारोबार

नई दिल्ली
आज देश के संविधान रचयिता डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर की 130वीं जयंती है और इस उपलक्ष्य पर घरेलू शेयर बाजार बंद है। यानी आज बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ( BSE ) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ( NSE ) में कारोबार नहीं हो रहा है। 15 अप्रैल को शेयर बाजार में सामान्य तौर पर कारोबार शुरू होगा। इसके बाद 21 अप्रैल को राम नवमी पर बाजार बंद रहेगा।

बाबासाहेब आंबेडकर की जयंती के दिन आज कमोडिटी और फॉरेक्स मार्केट भी बंद हैं। मेटल और बुलियन समेत होल सेल कमोडिटी मार्केट में कारोबार नहीं हो रहा है। साथ ही कमोडिटी फ्यूचर में भी कोई कारोबार नहीं हो रहा। गुरुवार से इन बाजारों में सामान्य तरीके से कामकाज शुरू हो जाएगा।

देश में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस के मामलों ने निवेशकों की चिंता बढ़ाई, जिसके चलते सोमवार को भारी गिरावट दर्ज की गई थी। हालांकि, सप्ताह के दूसरे कारोबारी दिन यानी मंगलवार को शेयर बाजार हरे निशान पर खुला था। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स करीब 108.15 अंकों की तेजी के साथ 47,991.53 के स्तर पर खुला था। वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 54.1 अंक की बढ़त के साथ 14,364.90 के स्तर पर खुला था।

मंगलवार को शेयर बाजार में सुधार आया था। बीएसई सेंसेक्स 660.68 अंक उछलकर 48,544.06 पर बंद हुआ। इसी तरह एनएसई निफ्टी 194 अंक की बढ़त के साथ 14,504.80 पर बंद हुआ। बता दें कोरोना महामारी का प्रकोप बढ़ने के कारण सोमवार को सेंसेक्स में करीब 1700 अंकों की भारी गिरावट दर्ज हुई थी।

बीते सप्ताह सेंसेक्स की शीर्ष 10 में से चार कंपनियों के बाजार पूंजीकरण में 1,14,744.44 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी हुई। सबसे अधिक फायदे में टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज और इंफोसिस रहीं। इनके अतिरिक्त हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड और भारती एयरटेल के बाजार मूल्यांकन में भी बढ़ोतरी हुई। शीर्ष 10 कंपनियों की सूची में रिलायंस इंडस्ट्रीज पहले स्थान पर कायम रही। उसके बाद क्रमश: टीसीएस, एचडीएफसी बैंक, इंफोसिस, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एचडीएफसी, आईसीआईसीआई बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक, भारतीय स्टेट बैंक और भारती एयरटेल का स्थान रहा।

2020-21 में निवेशकों की संपत्ति में 90.82 लाख करोड़ की भारी वृद्धि
घरेलू शेयर बाजार में शेयरों का भाव बढ़ने से निवेशकों की संपत्ति में वित्त वर्ष 2020-21 में 90,82,057.95 करोड़ रुपये की वृद्धि हुई। इस दौरान बीएसई 30 सेंसेक्स में 68 फीसदी की वृद्धि हुई। इस अभूतपूर्व तेजी के दौर में सेंसेक्स 20,040.66 अंक या 68 फीसदी लाभ में रहा। कोविड-19 महामारी की वजह से आर्थिक जगत में विभिन्न व्यवधानों और अनिश्चितताओं के बावजूद स्थानीय शेयर बाजार जबरदस्त तेजी में रहा।