ग्वालियर

धुंध ने नरम किए चढ़ते पारे के तेवर

ग्वालियर
चमकते सूरज की तपिश के बीच हल्की धुंध की चादर आने से अंचल के अधिकांश स्थानों पर पारे के तेवर कुछ नरम हुए हैं। इसके असर से बीते 24 घंटों के दौरान ग्वालियर में अधिकतम पारा 1.8 डिग्री कम रहा जबकि न्यूनतम पारे में 2.8 डिग्री गिरावट दर्ज हुई है। हालांकि  फिलहाल ग्वालियर के साथ आसपास के जिलों के मौसम में कोई बड़ा बदलाव आने के आसार नहीं हैं।

इसके बावजूद अगले 24 घंटों के दौरान पूर्वी मध्य प्रदेश में और आज पश्चिम मध्य प्रदेश में किन्हीं किन्हीं क्षेत्रों  में हीट वेव की स्थिति की संभावना बनी हुई है। मौसम विभाग के मुताबिक 14 अप्रैल तक मध्य प्रदेश में शुष्क मौसम बने रहने की संभावना है, पर आगामी 24 घंटों के दौरान अंचल के तापमानों में विशेष परिवर्तन नहीं होने की संभावना है। इसके बाद ग्वालियर और चंबल संभाग के ज्यादातर जिलों के अधिकतम तापमानों में 2 से 4 डिग्री की गिरावट आने एवं गर्मी से रहत मिलने की संभावना बन सकती है।

गौरतलब है कि गत दिवस पूर्वी मध्यप्रदेश के छिन्दवाड़ा, नौगांव एवं रीवा में हीट वेव जैसी स्थिति रही तथा पूर्वी मध्य प्रदेश के जिलों में तापमान 2 से 5 डिग्री सेल्सियस तकअधिक रहे। वहीं पश्चिमी मध्य प्रदेश में भी अधिकतम तापमान 2 से 4 डिग्री सेल्सियस अधिक रहे। मौसम विभाग द्वारा जारी किए गए आंकड़ों केअनुसार प्रदेश के खरगौन में 43.2 डिग्री अधिकतम तापमान के साथ यह सम्पूर्ण भारत में सबसे ज्यादा अधिकतम तापमान दर्ज हुआ। वहीं अब आमतौर पर मौसम शुष्क बना रहेगा।