देश

कोरोना काल: नई पार्टी बना रहीं जगनमोहन रेड्डी की बहन शर्मिला

हैदराबाद
आंध्र प्रदेश के सीएम जगनमोहन रेड्डी की बहन वाईएस शर्मिला नई पार्टी लॉन्च करने जा रही हैं। वह पड़ोसी राज्य तेलंगाना में नई क्षेत्रीय पार्टी की लॉन्चिंग एक बड़े आयोजन में करने वाली हैं, जिसमें करीब एक लाख लोग शामिल हो सकते हैं। कोरोना काल में इतने बड़े आयोजन को लेकर चिंताएं जताई जा रही हैं। हालांकि शर्मिला का कहना है कि तेलंगाना की टीआरएस सरकार राजनीतिक कारणों से अड़ंगे लगाने की तैयारी में है। शुक्रवार को वाईएस शर्मिला खम्मम जिले के पैवेलियन ग्राउंड में रैली  को संबोधित करेंगी। संकल्प सभा के नाम से आयोजित हो रहे इस कार्यक्रम में कम से कम एक लाख लोगों के पहुंचने की संभावना है। इसके अलावा वाईएस शर्मिला हैदराबाद स्थित अपने घर से 1,000 गाड़ियों के काफिले के साथ खम्मम पहुंच सकती हैं। पहले ही सक्रिय राजनीति में एंट्री करने की बात कर चुकीं वाईएस शर्मिला ने नई पार्टी की लॉन्चिंग के लिए खम्मम को ही चुना है। इसकी वजह यह है कि यहां उनके पिता वाईएस राजशेखर रेड्डी का जनाधार माना जाता रहा है। ऐसे में पिता की राजनीतिक जमीन का लाभ लेने के लिए ही उन्होंने यहां से पार्टी लॉन्च करने का फैसला लिया है। 2014 में शर्मिला के भाई जगनमोहन रेड्डी की पार्टी ने भी खम्मम से एक लोकसभा और दो विधानसभा सीटों पर जीत हासिल की थी। शुक्रवार को होने वाले आयोजन में वाईएस शर्मिला पार्टी के नाम, झंडे और विचारधारा का ऐलान करेंगी।

आंध्र प्रदेश की बजाय तेलंगाना में नई पार्टी के ऐलान को लेकर शर्मिला का कहना है कि वह अपने पिता के सपने को पूरा करते हुए राजन्ना राज्यम यानी राजशेखर रेड्डी का शासन स्थापित करना चाहती हैं। इस विशाल जनसभा के आयोजन की जिम्मेदारी संभाल रहे कोंडा राघव रेड्डी ने कहा कि इसके लिए पुलिस से जरूरी परमिशन ले ली गई है। हम किसी को असुविधा नहीं पहुंचाएंगे और कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती के साथ पालन किया जाएगा। हालांकि उन्होंने कहा कि तेलंगाना राष्ट्र  समिति के स्थानीय नेता इसमें बाधाएं पैदा कर सकते हैं। वे कोरोना का बहाना कर हमारी रैली को रद्द कराने की कोशिश कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि खम्मम में कोरोना के केस काफी कम हैं। इसके अलावा हम जरूरी सावधानी भी बरतेंगे। खम्मम के एसीपी बी. अंजनेयुलु ने कहा कि शर्मिला की मीटिंग को इस शर्त पर परमिशन दी गई है कि कोविड प्रोटोकॉल का पालन किया जाएगा और नियमों का उल्लंघन नहीं होगा। उन्होंने कहा कि हमने मीटिंग में सभी को कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करने की हिदायत दी है। यदि इसका उल्लंघन होता है तो फिर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।