देश

अमरनाथ यात्रा में पैदल श्रद्धालुओं के लिए बेहतर होगा रास्ता, लगाई जाएंगी टाइल्स

जम्मू 
जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने वार्षिक अमरनाथ यात्रा के लिए रविवार को पैदल पथ चौड़ा करने का निर्देश दिया। निर्देश के अनुसार पैदल पथ पर बालटाल से सीमेंट की टाइलें लगाई जाएंगी। प्रशासन को उम्मीद है कि इस साल यात्रा में लगभग छह लाख लोग शामिल होंगे। एक आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि मुख्य सचिव बी वी आर सुब्रमण्यम की अध्यक्षता में हुई श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड की उच्च स्तरीय समिति की 10वीं बैठक में यह निर्देश जारी किए गए। वार्षिक तीर्थयात्रा, अनंतनाग जिले में 36 किलोमीटर लंबे पहलगाम मार्ग पर और गांदरबल जिले में 14 किलोमीटर लंबे छोटे रास्ते पर जून-जुलाई में शुरू होती है और अगस्त में रक्षा बंधन तक चलती है। 

अधिकारी ने कहा कि मुख्य सचिव ने स्वच्छ, सुगम और सुरक्षित यात्रा के लिए तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि सुब्रमण्यम ने दोनों रास्तों पर मार्ग के उन्नति करण की स्थिति की भी समीक्षा की। इसके साथ ही मुख्य सचिव ने अस्थायी शिविर, आश्रय स्थल, स्वास्थ्य और चिकित्सा शिविरों के साथ विभिन्न स्थानों पर पीने के पानी, प्रकाश, एलपीजी, राशन दवा और मोबाइल संपर्क की व्यवस्था की भी समीक्षा की। अधिकारी ने बताया कि मुख्य सचिव ने छह लाख श्रद्धालुओं के आने की उम्मीद जताई और व्यवस्था दुरुस्त करने का निर्देश दिया।