मनोरंजन

गरीबी की झूठी कहानी बताई ‘इंडियन आइडल 12’ के कंटेस्टेंट सवाई भट्ट ने!

'इंडियन आइडल 2020' अपने हुनरमंद कंटेस्टेंट्स की वजह से चर्चा बटोर रहा है। इस बार आए कंटेस्टेंट्स की आवाज लोगों के दिलों पर जादू कर रही है। लेकिन इस सीजन में विवाद भी कम नहीं हो रहे हैं। कहा जा रहा है कि 'इंडियन आइडल 12' में कंटेस्टेंट सवाई भट्ट की गरीबी को लेकर झूठ बोला गया। सोशल मीडिया पर सवाई भट्ट के इंस्टाग्राम हैंडल के कुछ पुराने स्क्रीनशॉट्स वायरल हो रहे हैं, जिनमें वह किसी कॉन्सर्ट में लाइव परफॉर्म करते नजर आ रहे हैं। यूट्यूब पर भी सवाई भट्ट के कॉन्सर्ट के पुराने वीडियो मौजूद हैं।

दरअसल 'इंडियन आइडल 12' में कंटेस्टेंट्स के इंट्रो राउंड के दौरान सवाई भट्ट ने बताया था कि वह एक गरीब परिवार से हैं और उनका बचपन बहुत गरीबी और संघर्ष में बीता है। अब इसमें कितनी सच्चाई है, यह तो मालूम नहीं। लेकिन फैन्स ने सवाई भट्ट के इंस्टाग्राम पर खंगाल कर उनकी कुछ पुरानी तस्वीरें निकालकर सोशल मीडिया पर शेयर कर दी हैं। हालांकि अब ये पोस्ट और तस्वीरें सवाई भट्ट के इंस्टाग्राम अकाउंट पर मौजूद नहीं हैं। ऐसे में पुख्ता तौर पर कुछ भी कह पाना मुश्किल है। नवभारत टाइम्स भी इसकी पुष्टि भी नहीं करता है। इस मामले में अभी 'इंडियन आइडल' मेकर्स और खुद सवाई भट्ट की तरफ से भी कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है।

फैन्स का दावा है कि 'इंडियन आइडल' मेकर्स और सवाई भट्ट ने गरीबी को लेकर झूठ बोला। यानी उनकी गरीबी की कहानी झूठी है। फैन्स का कहना है कि सवाई भट्ट की पुरानी वायरल तस्वीरें देखकर कहीं से नहीं लगता है कि वह गरीब हैं। इंडियन आइडल में बताया गया कि सवाई भट्ट इतने गरीब हैं कि कभी टीवी का रिमोट तक नहीं देखा, लेकिन पुरानी तस्वीरों में वह फैंसी सनग्लास और कपड़ों में नजर आ रहे हैं।