जबलपुर

रीवा में  2 करोड़ 10 लाख का छात्रवृत्ति घोटाला मामले का  खुलासा

रीवा
कलेक्ट्रेट कार्यालय के छात्रवृत्ति शाखा में पदस्थ दो कर्मचारियों को निलंबित कर दिया गया है। इन दोनों सरकारी राशि को अपने खाते में जमा करा लिया था। रीवा कलेक्टर इलैया राजा टी के आदेश पर कार्रवाई की गई है। उसके बाद गबन की कुछ राशि सरकारी खाते में वापस कर दी हई। हालांकि अभी भी दोनों पर 16 लाख रुपये का बकाया है।

दरअसल, 2017 में हुए छात्रवृत्ति घोटाले की 2 करोड़ 10 लाख रुपए की राशि को कलेक्ट्रेट की छात्रवृत्ति शाखा में पदस्थ राम नरेश पटेल और अनिल शर्मा ने सरकारी खाते के बजाए अपने निजी खाते में ट्रांसफर कर लिया था। इसके बाद कलेक्टर ने राशि गबन के संबंध में उच्च स्तरीय जांच कराई थी, इसमें दोनों कर्मचारी दोषी पाए गए थे।

Tags

Related Articles

Close