इंदौर

राज्यपाल की मंजूरी, खुलेंगे इंदौर में श्री अरविंदो विवि और जबलपुर में महाकौशल विवि

इंदौर
इंदौर में श्री अरविंदो विश्वविद्यालय और जबलपुर में महाकौशल विश्वविद्यालय जल्द ही शुरु होंगे। राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने  इन दोनो निजी विश्वविद्यालय की स्थापना के लिए अध्यादेश को मंजूरी दे दी है। इंदौर के श्री अरविंदो विश्वविद्यालय में मंजूश्री भंडारी को पहला चांसलर बनाया जाएगा।
 
ये दोनो निजी विश्वविद्यालय शुरु करने के लिए उच्च शिक्षा विभाग ने पहले मध्यप्रदेश निजी विश्वविद्यालय संशोधन विधेयक लाने वाला था लेकिन विधानसभा का सत्र नहीं होंने के कारण अब इसे अध्यादेश के रुप में कैबिनेट की मंजूरी के बाद राज्यपाल आनंदी बेन पटेल के पास मंजूरी के लिए भेजा गया था। उन्होंने इसकी मंजूरी दे दी है। दमोह में एकलव्य विश्वविद्यालय की स्थापना भी की जाना है। फिलहाल इंदौर और जबलपुर के निजी विश्वविद्यालयों के स्थापना संबंधी प्रस्तावों को मंजूरी दी गई है।

इंदौर मे इंदौर-उज्जैन  स्टेट हाईवे एमआर 10 के पास सांवेर रोडपर श्री अरविंदो  विश्वविद्यालय की स्थापना की जाएगी। श्री अरविंदो इंस्टीट्यूट आॅफ मेडिकल साइंसेस इंदौर इस विश्वविद्यालय को स्पोंसर करेगी। मध्यप्रदेश सोसायटी रजिस्ट्री अधिनियम के तहत इसका पंजीयन किया गया है। इस विश्वविद्यालय का अधिकार क्षेत्र संपूर्ण मध्यप्रदेश होगा। वहीं आरएस एजुकेशनल सोसायटी जबलपुर द्वारा महाकौशल विश्वविद्यालय जबलपुर की स्थापना की जाएगी। यह विश्वविद्यालय महाकौशल विश्वविद्यालय ग्राम ऐठाखेड़ा चरगवन रोड पोस्ट तिलवारा जबलपुर में रहेगा। इसका कार्यक्षेत्र भी संपूर्ण मध्यप्रदेश रहेगा।

इंदौर में निजी क्षेत्र में श्री अरविंदो विश्वविद्यालय के शुरु होंने से प्रदेश में कई मेडिकल कॉलेज शुरु हो सकेंगे। इससे प्रदेश में अस्पतालों में चल रही चिकित्सकों और अन्य विशेषज्ञों की कमी पूरी हो सकेगी।  प्रदेश के युवाओं को प्रदेश के भीतर ही  अध्ययन की सुविधा मिल सकेगी। इसी तरह जबलपुर में महाकौशल विश्वविद्यालय के शुरु होंने से नये महाविद्यालय शुरु हो सकेंगे जिनमें रोजगार की संभावनाएं बढ़ेगी।

Tags

Related Articles

Close