देश

कलेक्टरों के साथ सीएम गहलोत ने की बैठक, कई को पड़ी फटकार

जयपुर
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जिलों के कलेक्टरों के साथ आयोजित की गई बैठक में भाग लिया। इस बैठक में शिकायतों के चलते जयपुर से सेवानिवृत्त एक पटवारी के पेंशन प्रकरण में देरी, जालोर में गार्गी पुरस्कार के चेक का समय पर वितरण नहीं होने तथा प्रतापगढ़ में म्यूटेशन के प्रकरण में अनावश्यक देरी पर दोनों कलेक्टरों को जमकर फटकार लगाई। साथ ही उन्होंने कहा कि, कलेक्टरों से संबंधित अधिकारी एवं कार्मिक की जिम्मेदारी तय करने के निर्देश दिए। सीएम ने कहा कि मुख्यमंत्री कार्यालय एवं सम्पर्क पोर्टल पर आने वाली आमजन की समस्याओं का पूरी गंभीरता के साथ समय पर समाधान हो। प्राप्त जानकारी के मुताबिक, इस बैठक में जयपुर, प्रतापगढ़ और जालोर कलेक्टर को पेंशन से लेकर पोषाहार के प्रकरणों में होने वाली देरी को लेकर जिम्मेदारी तय करने के लिए भी कहा गया है।

कान्फ्रेंस के जरिए मुख्यमंत्री सहायता कोष, सिलिकोसिस योजना, राजस्व मामलों तथा मुख्यमंत्री कार्यालय एवं सम्पर्क पोर्टल पर प्राप्त प्रकरणों सहित आमजन से जुड़े अन्य मामलों की समीक्षा की गई।  वहीं, गांवों में राजस्व से जुड़े लंबित मामलों के निस्तारण के लिए सी.एम. गहलोत ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि 'प्रशासन गांवों के संग' अभियान की तैयारी शुरू की जाए। उन्होंने कहा कि कलेक्टर, एसडीएम, तहसीलदार, पटवारी व संबंधित अधिकारी और कार्मिक कामों को टाइमलाइन में पूरा करें। गहलोत ने जिला कलेक्टरों को निर्देश दिए कि काश्तकारों को खेतों तक रास्ता देने के लिए अभियान चलाएं।

Related Articles

Close