व्यापार

सेसेक्स नई रिकार्ड ऊंचाई पर49,569.14 हुआ बंद

 मुंबई
बीएसई सेंसेक्स मंगलवार को 248 अंक और चढ़कर सर्वकालिक ऊंचाई पर बंद हुआ। सकारात्मक वैश्विक रुख और विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) का पूंजी प्रवाह जारी रहने के बीच बाजार में अच्छी हिस्सेदारी रखने वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज की अगुवाई में यह तेजी आयी। तीस शेयरों वाला बीएसई सेंसेक्स 247.79 अंक यानी 0.50 प्रतिशत की बढ़त के साथ 49,517.11 अंक के अब तक के उच्चतम स्तर पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह रिकार्ड 49,569.14 अंक तक चला गया था। इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 78.70 अंक यानी 0.54 प्रतिशत की बढ़त के साथ 14,563.45 अंक के उच्चतम स्तर पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 14,590.65 अंक के रिकार्ड स्तर तक गया। सेंसेक्स के शेयरों में सर्वाधिक लाभ में भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) रहा। इसमें करीब 4 प्रतिशत की तेजी आयी। इसके अलावा, भारती एयरटेल, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचडीएफसी बैंक, आईटीसी, एक्सिस बैंक और एनटीपीसी लाभ में रहीं। दूसरी तरफ जिन शेयरों में गिरावट दर्ज की गयी, उनमें एशियन पेंट्स, एचयूएल, नेस्ले इंडिया, टाइटन और कोटक बैंक शामिल हैं।

रिलायंस सिक्योरिटीज के रणनीति मामलों के प्रमुख विनोद मोदी ने कहा कि घरेलू शेयर बाजार मजबूत बना हुआ है। दोनों सूचकांक दिन के न्यूनतम स्तर से बाहर निकलते हुए रिकार्ड स्तर पर बंद हुए। उन्होंने कहा कि आरबीआई की वित्तीय स्थिरता रिपोर्ट में बैंकों को लेकर चिंता जताये जाने के बावजूद बैंक शेयर शुरूआती गिरावट से उबरते हुए लाभ में रहे। इसके अलावा वाहन कंपनियों के शेयरों को लेकर आकर्षण बना हुआ है। साथ ही कंपनियों के तीसरी तिमाही के बेहतर वित्तीय परिणाम की उम्मीद और मजबूत परिदृश्य बाजार को मजबूती प्रदान कर रहा है। विदेशी संस्थागत निवेशक शुद्ध लिवाल बने हुए हैं। शेयर बाजार के पास उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार एफआईआई ने सोमवार को शुद्ध रूप से 3,138.90 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे। एशिया के अन्य बाजारों में शंघाई कंपोजिट सूचकांक, हांगकांग का हैंगसेंग और जापान का निक्की लाभ में रहे जबकि दक्षिण कोरिया का कोस्पी नुकसान में रहा। यूरोप के प्रमुख शेयर बाजारों में शुरूआती कारोबार में सकारात्मक रुख रहा। इस बीच, वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड 1.60 प्रतिशत की बढ़त के साथ 56.55 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार कर रहा था।

Tags

Related Articles

Close