खेल

नस्लीय टिप्पणियों पर सख्त कानून बनाने की जरूरत-गौतम गंभीर

नई दिल्ली
भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सिडनी में खेला गया टेस्ट सीरीज का तीसरा मैच रोमांचक प्रतिस्पर्धा के साथ खिलाड़ियों पर की गई नस्लीय टिप्पणियों के कारण सुर्खियों में रहा। इस पर टीम इंडिया के पूर्व ओपनर गौतम गंभीर ने नाराजगी जाहिर की। गंभीर ने मंगलवार को कहा कि ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका जैसे देशों में क्रिकेटरों पर नस्लवादी टिप्पणियां करने घटनाएं बहुत होती हैं और इसे रोका जाना चाहिए।

भारतीय पेसर मोहम्मद सिराज और जसप्रीत बुमराह के खिलाफ मैच के तीसरे और चौथे दिन ऐसी टिप्पणियां की गईं। भारतीय टीम ने मैदानी अंपायर से इसकी शिकायत की जिसके बाद छह दर्शकों को स्टेडियम से बाहर कर दिया गया।

गंभीर ने  कहा, ‘यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है और यह ऐसी चीज है जो किसी भी खेल में बिल्कुल स्वीकार्य नहीं है। सिर्फ क्रिकेट ही नहीं, बल्कि किसी भी खेल में, मेरा मानना है कि इसके खिलाफ सख्त कानून बनाने की जरूरत है।’

Related Articles

Close