छत्तीसगढ़रायपुर

भूपेश का ट्वीट-आंदोलन नहीं बल्कि यह जंग हुक्मरानों के खिलाफ भी है,पूंजीपति घरानों के खिलाफ भी

रायपुर
केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ के किसानों का आंदोलन जारी है। दिल्ली की सीमा पर पिछले 37 दिनों से कड़ाके की ठंड में किसान तीनों कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग पर अड़े हुए हैं। पंजाब, हरियाणा सहित कई राज्यों के किसान केंद्रीय कृषि बिल के विरोध में आंदोलन कर रहे हैं। बारिश और ठंड में ?आंदोलन कर रहे किसानों के दर्द को समझते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बड़ा बयान दिया है। सीएम भूपेश ने ट्वीट कर लिखा कि यह किसानों का आंदोलन सिर्फ आंदोलन नहीं बल्कि यह जंग हुक्मरानों के खिलाफ भी है पूंजीपति घरानों के खिलाफ भी।

सीएम भूपेश बघेल ने कहा है कि यह आंदोलन नहीं, जंग है, जंग है हल चलाते किसानों की, जंग है बारिश में टपकते मकानों की, जंग है मेहनत से उगे फसल के दानों की, जंग है फ?मानों से खत्म किए जा रहे इंसानों की और यह जंग लड़ी जाएगी, हुक्मरानों कि खिलाफ भी, पूँजीपति घरानों के खिलाफ भी। छत्तीसगढ़ के किसानों ने दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन का हिस्सा बनने का फैसला लिया है। बताया जा रहा है कि 7 जनवरी को 1 हजार किसानों का जत्था दिल्ली के लिए रवाना होगा। वहीं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज ट्वीट कर आंदोलन को लेकर उनमें नई ऊर्जा का संचार किया है। किसान संगठनों ने प्रदेशव्यापी खेती बचाओयात्रा निकालने का फैसला लिया गया है। 'खेती बचाओझ् यात्रा प्रदेश के सभी धान खरीदी केन्द्रों में चलाई जाएगी। छत्तीसगढ़ सरकार शुरूआत से ही कृषि कानून का विरोध कर रही है।

Related Articles

Close