राजनीति

1200 KM दूर हैदराबाद जा सकते हैं, 12 KM दूर जाकर किसानों से क्यों नहीं मिलते?: कांग्रेस

 
नई दिल्ली  

पिछले 4 दिनों से जारी किसानों के आंदोलन पर कांग्रेस ने केंद्र सरकार और अमित शाह पर हमला बोला है. पार्टी प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि अगर आप रैलियों को संबोधित करने के लिए 1200 किलोमीटर दूर हैदराबाद की यात्रा कर सकते हैं तो किसानों के साथ बातचीत की पहल के लिए 12 किमी की यात्रा क्यों नहीं कर सकते. कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने अमित शाह पर जोरदार हमला करते हुए कहा कि आप 1200 किलोमीटर दूर हैदराबाद जाकर रैली को संबोधित कर सकते हैं, लेकिन आप किसानों के साथ बातचीत के लिए महज 12 किलोमीटर दूर क्यों नहीं जा सकते. उन्होंने कहा कि दूसरी तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'मन की बात' में कृषि बिल के संशोधनों को सही ठहराया. पीएम मोदी पर सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री और केंद्रीय मंत्रियों ने क्यों नहीं किसानों से बॉर्डर पर ही बातचीत शुरू की?

सुरजेवाला ने कहा कि वे ईस्ट इंडिया कंपनी हैं न कि मोदी सरकार. यदि सरकार बातचीत करना चाहती है तो कई शर्तें क्यों रखी जा रही हैं. उन्होंने कहा कि जो एफआईआर दर्ज की गई है, वो किन वजहो से की गई है. मोदी सरकार पर हमला करते हुए सुरजेवाला ने कहा कि अगर आप किसानों की दुर्दशा पर आंखें मूंद लेते हैं, तो मोदी जी, आप बहुत जल्द ही सत्ता से दूर हो जाएंगे.

CM गहलोत का PM मोदी को पत्र
प्रदर्शनकारी किसानों पर आंसू गैस छोड़े जाने की निंदा करते हुए कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि मोदी सरकार किसानों पर आंसू गैस का उपयोग कर रही है और ऐसे आरोप लगा रही है कि किसान राजनीतिक दलों की शह पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. इस तरह के दावों से इस देश के किसानों को नीचा दिखाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि यह युद्ध का समय है अनुरोध का नहीं.
 
किसानों के आंदोलन का समर्थन करते हुए सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस किसानों के साथ खड़ी है और हम नहीं चाहते कि सरकार किसानों को उनकी मूल आजीविका और अधिकारों से वंचित करे. इस बीच राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने किसान आंदोलन को लेकर PM नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है. उन्होंने अपने पत्र में पीएम मोदी से आग्रह किया है कि वे किसानों की सुनें और कृषि कानूनों पर फिर से विचार करें.

दूसरी ओर, दिल्ली बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे किसानों के आंदोलन के बारे में किसान यूनियन के नेता सुरजीत सिंह फूल ने आज शाम पीसी करते हुए कहा कि हम केंद्र के प्रस्ताव पर बुराड़ी नहीं जाएंगे. बुराड़ी ओपन जेल है और उसका सबूत हमें मिल गया है. दिल्ली पुलिस ने उत्तराखंड किसान एसोसिएशन के अध्यक्ष से कहा कि वे उन्हें जंतर मंतर ले जाएंगे, लेकिन उन्हें बुराड़ी पार्क में बंद कर दिया गया.

भारतीय किसान यूनियन ने कहा कि दिल्ली आने वाली पांच सड़कों को हम जाम कर देंगे. हम 5 प्वाइंट पर धरना देंगे. हमारी ट्रैक्टर ट्रॉली में पूरा इंतजाम है. वह कमरे के बराबर है और उसमें हमने सारी व्यवस्था की है. हमारे पास पर्याप्त राशन है और 4 महीने तक हम रोड पर बैठ सकते हैं. इसलिए चिंता करने की कोई बात नहीं है. 

Tags

Related Articles

Close