भोपाल

प्रशिक्षण के पहले सभी जिलों में मंडल अध्यक्षों की नियुक्ति करेगा संगठन

भोपाल। 29 नवम्बर से शुरू होने वाले भाजपा के प्रशिक्षण कार्यक्रम के पहले अब उन मंडलों में अध्यक्षों की नियुक्ति की जाएगी जहां मंडल अध्यक्ष की नई कमेटी बनाने का काम पेंडिंग है। विधानसभा उपचुनाव के चलते प्रदेश संगठन ने इन नियुक्तियों को टाल रखा था। इन मंडलों में नए अध्यक्ष 35 से चालीस साल तक की उम्र की ही होंगे। दो दिनों में करीब डेढ़ सौ मंडलों में नियुक्तियां की जा सकती हैं।

भाजपा के प्रदेश संगठन के चुनाव पिछले साल हुए थे। इन चुनावों में कई जिलों में मंडल अध्यक्ष के पद को लेकर आम राय नहीं बन सकी थी। इस कारण विवादित मंडलों की नियुक्ति का फैसला टाल दिया गया था। इसी तरह जिला अध्यक्षों की नियुक्ति के मामले में भी हालात सामने आए थे। प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद वीडी शर्मा ने बाकी बचे 19 जिलों में तो जिला अध्यक्षों की नियुक्ति कर दी थी लेकिन इसके बाद उपचुनाव के हालात बन गए और ऐसे में संगठन ने उपचुनाव की तैयारियों में फोकस किया था। अब जबकि सरकार बन चुकी है तो भाजपा संगठन को फिर मजबूत करने में जुट गई है। इसी के चलते जिन मंडलों में मंडल अध्यक्षों की नियुक्ति शेष रह गई है, वहां मंडल अध्यक्ष बनाने का काम किया जाएगा। यह काम अगले दो दिनों के भीतर कर लिया जाएगा ताकि मंडल अध्यक्ष अपनी कार्यकारिणी बना लें। इसी कारण इन मंडलों में प्रशिक्षण का काम सबसे अंत में रखा जा सकता है। गौरतलब है कि प्रदेश में भाजपा के 1059 मंडल हैं जिसमें से करीब 550 मंडलों में नियुक्तियां हो चुकी थीं जबकि बाकी में शेष थीं। इनमें से 19 जिलों के 71 मंडलों में कल नियुक्तियां की जा चुकी हैं। अब बाकी जिलों के मंडल अध्यक्षों की नियुक्तियों पर भी पार्टी एक दो दिन में प्रक्रिया पूरी कर सकती है।

Tags

Related Articles

Close