देश

मोंटी पर 50 लाख रुपये ठगने का है आरोप,केस दर्ज

   नोएडा
           
नोएडा में कोर्ट के आदेश पर वेव ग्रुप के चार निदेशकों के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया है. इन आरोपियों में ग्रुप के निदेशक मनप्रीत सिंह चड्ढा उर्फ मोंटी चड्ढा का नाम भी शामिल है. इन चारों निदेशकों पर वेव बिजनेस टॉवर-1 के नाम पर धोखाधड़ी का आरोप है.

आरोप है कि वर्ष 2012 में वेव समूह के निदेशक मनप्रीत सिंह चड्ढा उर्फ ​​मोंटी चड्ढा, चरण जीत सिंह, हरमनदीप खंदारी समेत चार लोगों ने जालसाजी और धोखाधड़ी की थी. इस मामले में वेव मेगा सिटी सेंटर के 3 निदेशक और 1 वित्त प्रमुख नारायण झा के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है.

नोएडा सेक्टर 25 में रहने वाले पीड़ित पीयूष शर्मा की शिकायत पर कोर्ट ने इस संबंध में मामला दर्ज करने का फरमान सुनाया है. आरोप है कि वेव समूह के निदेशक मनप्रीत सिंह चड्ढा उर्फ ​​मोंटी चड्ढा ने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर नोएडा निवासी पीयूष शर्मा से वेव बिजनेस टॉवर नामक प्रोजेक्ट के नाम पर 50 लाख रुपये ठग लिए थे.

पीड़ित पीयूष ने वेव ग्रुप में ऑफिस स्पेस बुक कराया था. लेकिन इसके नाम पर 50,06,597 रुपये पीयूष से हड़प लिए गए. यहां तक कि दूसरे प्रोजेक्ट में शिफ्ट करने पर भी उन्हें कब्जा नहीं दिया गया. परेशान होकर पीयूष ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया. कोर्ट के आदेश पर वेव ग्रुप के डायरेक्टर मनप्रीत सिंह चड्ढा समेत 4 डायरेक्टरों के खिलाफ आईपीसी की धारा 420, 467, 468, 471, 504 और 506 के तहत धोखाधड़ी का केस दर्ज किया गया.

अब इस मामले में कोर्ट के आदेश पर नोएडा के सेक्टर 20 थाने में केस दर्ज किया गया है. पुलिस आरोपों के आधार पर जांच में जुट गई है. इस मामले में वेव ग्रुप के तीन डायेक्टरों समेत चार नामजद और अन्य अज्ञात को आरोपी बनाया गया है. आरोप है कि मोंटी चड्ढा ने वेव बिजनेस टावर के नाम पर लोगों को करोड़ों का चूना लगाया है.

Related Articles

Close