भोपाल

मंत्री इमरती, गिर्राज, कंसाना की हार पर मंथन करेगी BJP

भोपाल
शिवराज सरकार के तीन मंत्री इमरती देवी, गिर्राज दंडोतिया और एदल सिंह कंसाना चुनाव हार गए हैं। पार्टी इसको लेकर अपने स्तर पर मंथन करेगी कि आखिर इनकी हार की मुख्य वजह क्या रही? तीनों ही मंत्रियों की हार की जो शुरुआती वजह सामने आई है, उसमें भितरघात, समाज के लोगों का साथ नहीं देना और विवादास्पद छवि मुख्य कारण हैं।

इमरती देवी के जाटव समाज का पूरी तरह साथ नहीं देना है। यहां के लोग कांग्रेस माइंडेड हैं और तीन चुनाव इमरती यहां से जीती थीं। इस चुनाव में उनका समाज भाजपा के साथ खुलकर नहीं आया। दूसरी ओर सुरेश राजे का उनकी जाति और समाज के लोगों ने खुलकर साथ दिया।

सुमावली से मंत्री एंदल सिंह कंसाना की हार की वजह गुर्जर समाज के अलावा अन्य समाज की वोट उन्हें नहीं मिलना बताया जा रहा है। वे हर दूसरा चुनाव हारते रहे हैं। इस क्षेत्र में कुशवाह समाज की बहुलता के चलते भाजपा से बगावत कर कांग्रेस की टिकट पाने वाले अजब सिंह के लिए एकतरफा वोटिंग होना भी कारण माने जा रहे हैं।

मंत्री गिर्राज दंडोतिया की हार की वजह पार्टी की भितरघात और अन्य समाज के लोगों का वोट उन्हें नहीं मिल पाना बताया जा रहा है। यहां रविन्द्र तोमर का सामाजिक व्यापारिक जुड़ाव और तोमर समाज के वोट का बाहुल्य जीत में वजह बना है।

Related Articles

Close