भोपाल

आक्रोश: नहीं मिली 7वें वेतनमान की तीसरी किस्त, कर्मचारी निराश

भोपाल
राज्य सरकार के सातवें वेतनमान की तीसरी किस्त के 25 प्रतिशत भुगतान के निर्णय से 4.50 लाख अधिकारियों व कर्मचारियों को निराशा हुई है। ये वे अधिकारी व कर्मचारी हैं, जिन्हें अब तक पहली या दूसरी किस्त तक नहीं मिली। इनमें सावर्जनिक उपक्रमों, दुग्ध संघों समेत सहकारी संस्थाओं एवं अर्द्धशासकीय संस्थानों के कर्मचारी शामिल हैं। प्रदेश के 2.37 लाख अध्यापकों को 7वां तो छोड़ो 6वें वेतनमान की तीसरी किस्त ही नहीं मिली। राज्य सरकार की घोषणा के बाद इनके संगठन भी हरकत में आ गए। मप्र दुग्ध संघ कर्मचारी कांग्रेस के महामंत्री समेत अन्य पदाधिकारी बुधवार को मुख्यालय पहुंचकर एमसीसीडीएफ के एमडी शमीमुद्दीन से मिले। इन्होंने एमडी को बताया कि दुग्ध संघ के अधिकारियों व कर्मचारियों को 7वें वेतनमान की दूसरी किस्त अब तक नहीं मिली है। इसका जल्द भुगतान कराया जाए।

Related Articles

Close