देश

अवैध शराब रोकने के लिए यूपी के सीमावर्ती जिलों पर बने 33 चेक पोस्ट

 लखनऊ 
बिहार में विधान सभा चुनाव के दरम्यान अवैध शराब की तस्करी की रोकथाम के लिए उत्तर प्रदेश के सीमावर्ती जिलों में 33 चेक पोस्ट गठित किए गए हैं। यह जानकारी देते हुए अपर मुख्य सचिव आबकारी  संजय आर. भूसरेड्डी ने बताया कि चेक-पोस्टों पर 24 घंटे आबकारी स्टाफ की ड्यूटी लगाई गई है, जिन्हें मदिरा की तस्करी पर निगरानी रखे जाने के लिए विशेष दिशा-निर्देश दिए गए हैं।

अवैध शराब की तस्करी पर निगरानी के लिए जारी दिशा-निर्देशों में उत्तर प्रदेश राज्य के सहारनपुर, शामली, बागपत, गौतमबुद्धनगर, अलीगढ़ एवं मथुरा जनपद हरियाणा के सीमावर्ती जनपद हैं, जहां से बिहार को हरियाणा में बनी शराब की तस्करी होने की सर्वाधिक संभावना रहती है। प्रदेश के सोनभद्र, चन्दौली, गाजीपुर, बलिया, देवरिया, कुशीनगर व महाराजगंज की सीमाएं बिहार से लगी हुई हैं। प्रदेश सरकार ने अवैध मदिरा तस्करी रोकने के लिए सभी जनपदों में पुलिस, आबकारी एवं राजस्व अधिकारियों के समन्वय से प्रभावी कार्यवाही करने के सख्त निर्देश दिए हैं।

श्री भूसरेड्डी ने बताया कि हरियाणा की सीमा पर वाहनों की सघन चेकिंग के निर्देश मण्डलायुक्तों, जिलाधिकारियों, पुलिस अधीक्षकों और आबकारी विभाग के अधिकारियों को दिए गए हैं। जिससे हरियाणा राज्य से अवैध शराब  उत्तर प्रदेश में न आ सके और किसी भी क्षेत्र से अवैध शराब बिहार राज्य में न जा सके। 
 अपर मुख्य सचिव ने बताया कि बिहार में अवैध शराब की तस्करी पर प्रभावी तौर पर रोक लगाने के भी निर्देश दिए गए हैं। यदि कोई भी व्यक्ति अवैध शराब की तस्करी करते पाया जाता है तो इसमें संलिप्त व्यक्तियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी।