इंदौर

मंत्री उषा ठाकुर ने लगाया आरोप – मदरसों में तैयार किए जाते हैं आतंकवादी, बंद किया जाए सरकारी अनुदान

 इंदौर 
मध्य प्रदेश की मंत्री उषा ठाकुर ने आरोप लगाया कि मदरसे जम्मू-कश्मीर को आतंकवादियों की फैक्टरी बनाने के लिए जिम्मेदार हैं। उन्होंने यह भी कहा कि देश में मदरसों को सरकार से कोई भी सुविधा नहीं मिलनी चाहिए।

मध्य प्रदेश की संस्कृति मंत्री और इंदौर से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) एक विधायक उषा ठाकुर ने कहा, "सभी आतंकवादी मदरसों में तैयार किए जाते हैं, जिन्होंने जम्मू और कश्मीर को एक आतंकवादी कारखाने में बदल दिया। मदरसे, राष्ट्रवाद का पालन नहीं कर सकते। उन्हें समाज की पूर्ण प्रगति सुनिश्चित करने के लिए मौजूदा शिक्षा प्रणाली के साथ मिला दिया जाना चाहिए।”

उन्होंने कहा, "असम ने इसे सफलता के साथ कर दिखाया है। जो संस्थान राष्ट्रवाद के रास्ते में बाधा पैदा कर रहे हैं, उन्हें राष्ट्रहित में बंद करना होगा।" पत्रकारों से बात करते हुए मंत्री उषा ठाकुर ने एक सवाल के जवाब में कहा कि वह मदरसों को सरकारी अनुदान देना बंद करना चाहती हैं।

उन्होंने कहा, "वक्फ बोर्ड संविधान की भावना से धार्मिक शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए व्यक्तिगत क्षमता में इस तरह के संस्थानों को चलाने के लिए काफी मजबूत है। मदरसों को सरकारी सहायता समाप्त करने की जरूरत है।" उषा ठाकुर ने सभी धर्मों के बच्चों को सामान्य शिक्षा देने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि धर्म आधारित शिक्षा समाज में कट्टरवाद और घृणा को बढ़ावा देती है।

Tags

Related Articles

Close