विदेश

कोरोना वैक्सीन बांटकर दुनिया में सबसे शक्तिशाली देश बनने की राह पर चीन!

चीन 
कोरोना वायरस महामारी की वजह से दुनियाभर से आरोप झेल रहा चीन अब कई देशों से रिश्ते मजबूत करने में जुट गया है. इसके लिए चीन अपनी कोरोना वैक्सीन को ही हथियार बना रहा है. वैक्सीन के सफल घोषित होने से पहले ही चीन कई देशों को टीके की खुराक देने का ऐलान कर चुका है. छपी रिपोर्ट के मुताबिक, फिलिपीन्स को चीन की वैक्सीन जल्दी मिल जाएगी. वहीं, लैटिन अमेरिकी और कैरिबियन देशों को चीन एक बिलियन डॉलर की राशि कर्ज के तौर पर दे रहा है ताकि वे दवाइयां खरीद सकें. वहीं, बांग्लादेश को चीनी कंपनी एक लाख वैक्सीन की खुराक फ्री देगी. चीन ने वैक्सीन ट्रायल के लिए पाकिस्तान के साथ भी समझौता किया है और वहां चीनी वैक्सीन का ट्रायल शुरू हो गया है.
 
बड़ी बात ये है कि चीन की एक भी वैक्सीन अभी पूरी तरह सफल घोषित नहीं हुई है. चीन की सभी वैक्सीन का आखिरी राउंड का ट्रायल अभी जारी है, लेकिन रिजल्ट से पहले ही वह विभिन्न देशों को अपने खेमे में करने की कोशिश में जुट गया है. कोरोना वायरस की वजह से दुनिया में चीन की छवि काफी खराब हुई है, लेकिन तेजी से कई वैक्सीन पर काम करके चीन अपनी पुरानी स्थिति से भी आगे निकलने की कोशिश में जुटा है. हालांकि, वैक्सीन के सफल साबित होने और बड़े पैमाने पर उत्पादन करने में चीन को कई महीने का वक्त लग सकता है. 
 
इंडोनेशिया के साथ बीजिंग के संबंध अच्छे नहीं रहे थे, लेकिन चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विडोडो को भरोसा दिलाया है कि वैक्सीन को लेकर उनकी चिंता और जरूरत पूरा करने पर चीन गंभीर है. बता दें कि अमेरिका ने फैसला किया है कि वह कोरोना वैक्सीन को लेकर WHO की ओर से तैयार किए गए अंतरराष्ट्रीय गठबंधन का हिस्सा नहीं होगा. ऐसे में विभिन्न देशों को मदद करके चीन महामारी के बाद की दुनिया में शक्तिशाली देश के तौर पर उभर सकता है.
 

Tags

Related Articles

Close