देश

सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच के लिए UN और CIA से भी संपर्क कर सकते हैं, पर…: संजय राउत 

मुंबई 
शिवसेना सांसद संजय राउत ने शुक्रवार को कहा कि उनकी पार्टी सुशांत सिंह राजपूत की मौत या आत्महत्या का कारण जानना चाहती है क्योंकि वह भी 'हमारे बेटे' की तरह हैं। उन्होंने कहा कि मुंबई पुलिस की जांच में कोई 'राजनीतिक' हस्तक्षेप नहीं होना चाहिए। राउत ने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत के परिवार के साथ हमारी पूरी सहानुभूति है। कल मैंने सिर्फ इतना कहा कि उन्हें थोड़ा धैर्य रखना चाहिए लेकिन यह दिखाया गया कि मैंने उन्हें धमकी दी है। क्या यह धमकी थी? मुंबई पुलिस पर भरोसा करें। अगर आपको लगता है कि वे अच्छा नहीं कर रहे हैं। इसके बाद सीबीआई के पास जाएं। वे संयुक्त राष्ट्र और सीआईए से भी संपर्क कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत भी हमारा बेटा था। वह मुंबई में रहता था। वह एक अभिनेता था। बॉलीवुड मुंबई का परिवार है। हमें क्या दुश्मनी होगी? यहां तक ​​कि हम चाहते हैं कि उसके परिवार को न्याय मिले। हम चाहते हैं कि उसकी मौत या आत्महत्या के पीछे का राज सामने आए लेकिन मुंबई पुलिस की जांच में कोई राजनीतिक दखलादंजी नहीं होनी चाहिए। इससे पहले बुधवार को सुशांत सिंह के रिश्तेदार और बीजेपी विधायक नीरज कुमार सिंह के वकील अनीश झा ने राउत को उनके हालिया बयानों के लिए माफी मांगने के लिए 48 घंटे का समय दिया था।

सुशांत के पिता केके सिंह की शिकायत पर पटना में दर्ज एफआईआर के आधार पर सीबीआई ने बॉलीवुड एक्टर की मौत के मामले में रिया चक्रवर्ती, इंद्रजीत चक्रवर्ती, संध्या चक्रवर्ती, शोविक चक्रवर्ती, सैमुअल मिरांडा, श्रुति मोदी और अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया। जांच एजेंसी ने 6 अभियुक्तों और अन्य लोगों के खिलाफ आपराधिक साजिश, आत्महत्या के लिए उकसाने, गलत तरीके से रोकना, गलत तरीके से कैद करना, चोरी करना, आपराधिक विश्वासघात, धोखाधड़ी और आपराधिक धमकी देने का मामला दर्ज किया। रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (RPI) के प्रमुख रामदास अठावले ने दावा किया था कि महाराष्ट्र में महा विकास अघड़ी (MVA) सरकार गणेशोत्सव के बाद गिर जाएगी। इस पर राज्यसभा सांसद संजय राउत ने कहा कि जिनके पास कुछ नहीं है वे इस तरह की चीजों की भविष्यवाणी करते हैं। यह सरकार पांच साल तक दौड़ेंगी। तीनों दलों के बीच कोई आंतरिक लड़ाई नहीं है। उन्होंने कहा कि हम मानते हैं कि बीजेपी 105 विधायकों के साथ एक मजबूत विपक्ष है और एक बड़ी चट्टान की तरह खड़ी है। अगर हम ठीक से काम नहीं करते हैं, तो वो बरसेंगे। हमें बीजेपी के मार्गदर्शन की जरूरत है।

Related Articles

Close