देश

कोरोना की दूसरी वैक्सीन ट्रायल के लिए गोरखपुर पहुंची, 53 वालंटियरों के नमूने लिए गए 

गोरखपुर  
भारत बायोटेक वैक्सीन की डोज लगने के बाद कोरोना के लिए तैयार जायडस कैडिला की वैक्सीन (जेडवाईसीओ- डी) चरगांवा स्थित राणा अस्पताल आ गई है। वैक्सीन आने के बाद अस्पताल प्रबंधन ने जांच प्रक्रिया शुरू कर दी है। ट्रायल के लिए मिले वालंटियर्स की स्वास्थ्य जांच की जा रही है। इस वैक्सीन के लिए 100 वालंटियरों का लक्ष्य रखा गया है, जिसमें से 53 लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण कराया जा रहा है। गुरुवार को सैंपल लिए गए। पूरी तरह से स्वस्थ पाए जाने के बाद ही उन्हें 17 अगस्त के बाद वैक्सीन की पहली डोज दी जाएगी। दूसरी डोज 28वें दिन व तीसरी डोज 56वें दिन दी जाएगी। राणा हास्पिटल को भारत की पहली व दूसरी दोनों वैक्सीन के ट्रायल का अवसर मिला है। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आसीएमआर) ने भारत बायोटेक की वैक्सीन को पहले ट्रायल की अनुमति दी थी। जायडस अनुमति पाने वाली दूसरी भारतीय फार्मा कंपनी है।

वालंटियरों को लगी पहली वैक्सीन की दूसरी डोज
भारत बायोटेक की वैक्सीन का ट्रायल 31 जुलाई को ही हो गया था। कुल आठ लोगों को पहली डोज दी गई थी। दूसरी डोज 14वें दिन गुरुवार को दी गई। हालांकि केवल पांच वालंटियर ही पहुंचे थे। तीन वालंटियरों को शुक्रवार को दूसरी डोज लगाई जाएगी।

जायडस कैडिला की वैक्सीन पहुंच गई है। वालंटियर्स की स्वास्थ्य की जांच की जा रही है। 17 अगस्त के बाद उन्हें पहली डोज लगाई जाएगी। 
डॉ. सोना घोष, निदेशक, राणा हास्पिटल 

Related Articles

Close