राजनीति

राहुल से मिलने के बाद मान गए सचिन पायलट! अब 3 सदस्यीय पैनल सुनेगा उनकी शिकायत

नई दिल्ली 
राजस्थान की जारी सियासी संकट के बीच कांग्रेस पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने एआईसीसी से एक कमेटी बनाने को कहा है, जो सचिन पायलट और बागी विधायकों की ओर से उठाए गए मुद्दों का हल निकालेगी। कांग्रेस के महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कहा कि सोनिया गांधी ने फैसला किया है कि पार्टी सचिन पायलट और बागी विधायकों की ओर से उठाए गए मुद्दे को दूर करने के लिए एक तीन सदस्यीय समिति का गठन करेगी और उसके बाद उचित निर्णय लिया जाएगा। बता दें कि राजस्थान में विधानसभा सत्र शुरू होने से पहले सचिन पायलट ने आज दिल्ली में राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा से मुलाकात की। सूत्रों की माने तो इस मुलाकात में सचिन पायलट ने अपनी और बागी विधायकों की समस्यों के बारे में राहुल और प्रियंका गांधी को पूरी जानकारी दी। न्यूज एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से कहा है कि राहुल और प्रियंका के साथ मुलाकात के दौरान सचिन पायलट ने यह साफ किया है कि उनका कदम कांग्रेस पार्टी के खिलाफ नहीं बल्कि अशोक गहलोत के विरोध में है। पायलट ने राजस्थान में सियासी संकट के पीछे की पूरी कहानी बताई। साथ में उन्होंने यह भी बताया कि वो क्यों बगावत को मजबूर हुए। बता दें कि पायलट से मुलाकात से पहले राहुल गांधी और प्रियंका ने करीब डेढ़ घंटे तक बैठक की। बाद में दोनों राहुल गांधी के आवास से निकले और किसी अन्य स्थान पर जाकर पायलट से मिले। यह मुलाकात विधानसभा सत्र आरंभ होने से कुछ दिनों पहले हुई है और अब राजस्थान में कांग्रेस के भीतर पिछले कुछ हफ्तों से चली आ रही उठापठक थमने की उम्मीद है। 

गौरतलब है कि 14 अगस्त से राजस्थान विधानसभा का सत्र आरंभ होगा जिसमें मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बहुमत साबित करने का प्रयास करेंगे। मुख्यमंत्री गहलोत के खिलाफ खुलकर बगावत करने और विधायक दल की बैठकों में शामिल नहीं होने के बाद कांग्रेस आलाकमान ने पायलट को प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष और उप मुख्यमंत्री के पदों से हटा दिया था। बागी रुख अपनाने के साथ ही पायलट कई बार स्पष्ट कर चुके हैं कि वह भाजपा में शामिल नहीं होंगे।

Related Articles

Close