व्यापार

शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 448 अंक टूटा , निफ्टी 11,000 अंक से नीचे आया

मुंबई

मिले-जुले अंतरराष्ट्रीय संकेतों की वजह से सोमवार को भारतीय शेयर बाजार लाल निशान में खुले. बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) का सेंसेक्स सुबह सिर्फ 11 अंक की​ गिरावट के साथ 37,595 पर खुला. लेकिन सुबह 10.14 बजे तक सेंसेक्स 448 अंकों की गिरावट के साथ 37,158 पर पहुंच गया. कारोबार की शुरुआत के बाद इसमें लगातार गिरावट का रुख रहा.

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी सुबह 16 अंकों की गिरावट के साथ 11,057.55 पर खुला और थोड़ी ही देर में यह 125 अंकों की गिरावट के साथ 10,948.95 पर पहुंच गया.

ट्रेडर्स का कहना है कि भारतीय बाजार अभी अंतरराष्ट्रीय संकेतों के मुताबिक ही चलेंगे. कंपनियों के कमजोर तिमाही नतीजों की वजह से बाजार का सेंटिमेंट वैसे ही डाउन है. इन नतीजों से यह पता चलता है ​कि कोराना संकट का अर्थव्वस्था पर गहरा असर पड़ा है.

इन शेयरों में आई गिरावट

निफ्टी में नुकसान में रहने वाले प्रमुख शेयरों में यूपीएल, इंडसइंड बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक, एचडीएफसी लाइफ, एचडीएफसी बैंक शामिल रहे. करीब 572 शेयरों में तेजी और 465 शेयरों में गिरावट आई.

पिछले हफ्ते ये था बाजार का हाल

इसके पहले शुक्रवार को भारतीय शेयर बाजार में सुस्ती देखने को मिली. वैश्विक बाजारों के नकारात्मक संकेतों और रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचडीएफसी बैंक और एचडीएफसी जैसी बड़ी कंपनियों के शेयरों में गिरावट से शुक्रवार को सेंसेक्स 129 अंक टूट गया. बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 129.18 अंक या 0.34 प्रतिशत के नुकसान से 37,606.89 अंक पर आ गया. इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 28.70 अंक या 0.26 प्रतिशत टूटकर 11,073.45 अंक पर बंद हुआ.

आगे आंकड़ों पर रखें नजर

घरेलू शेयर बाजार को इस सप्ताह भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की मौद्रिक समीक्षा बैठक के नतीजे और प्रमुख कंपनियों के तिमाही नतीजे समेत कई अन्य कारकों से दिशा मिलेगी. खासतौर से सप्ताह के दौरान जारी होने वाले प्रमुख आर्थिक आंकड़ों का निवेशकों को इंतजार रहेगा.

इसके अलावा, मानसून की प्रगति, डॉलर के मुकाबले रुपये की चाल, अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कमत समेत कोरोनावायरस संक्रमण की रिपोर्ट से बाजार की चाल प्रभावित होगी.

Related Articles

Close