जबलपुर

अब भू-अभिलेखों की प्रमाणित प्रतियां तत्काल होंगी उपलब्ध

पन्ना
डिप्टी कलेक्टर कु. रचना शर्मा द्वारा बताया गया कि भू राजस्व संहिता (भू-सर्वेक्षण तथा भू-अभिलेख) अधिनियम 2020 के नियम 94 एवं 105 के अधीन इलेक्ट्रानिक स्वरूप में उपलब्ध अभिलेखों की प्रमाणित प्रतिलिपियां प्राधिकृत बेवपोर्टल एवं प्राधिकृत सेवाप्रदाता के माध्यम से उपलब्ध कराई जाएंगी। इस कार्यक्रम का शुभारंभ 04 अगस्त को जिला कार्यालय से किया जाएगा।
 
इस सेवा के प्रारंभ होने से आमजन को भू अभिलेख की प्रमाणित प्रति तत्काल कहीं से भी कभी भी आॅनलाईन प्राप्त हो सकेगी। प्राधिकृत बेव पोर्टल ूूूण्उचइीनसमाीण्हवअण्पद पर पब्लिक यूजर पंजीकृत होकर यह अभिलेखों की डिजीटली हस्ताक्षरित प्रतिलिपि निर्धारित शुल्क का भुगतान कर प्राप्त कर सकते हैं। यह सुविधा नागरिकों द्वारा लोक सेवा केन्द्र, एमपी आॅनलाईन, तहसील कार्यालय में स्थित आईटी सेंटर एवं आॅनलाईन के माध्यम से अभिलेखों की प्रतिलिपि प्राप्त की जा सकती हैं।

उन्होंने निर्देश दिए हैं कि लोक सेवा केन्द्र तथा एमपी आॅनलाईन कियोस्क केन्द्रों पर प्रचार-प्रसार सामग्री बैनर के माध्यम से इस सेवा का प्रचार किया जाए। संबंधित केन्द्रों से बैनर लगाने के पश्चात् फोटाग्राफ्स प्राप्त किए जाए। उन्होंने बताया कि अभिलेख इलेक्ट्रानिक स्वरूप में उपलब्ध है उनकी प्रतिलिपि अभिलेखागार के स्थान पर आॅनलाईन जारी होगी। राजस्व न्यायालयों में मध्यप्रदेश भू अभिलेख संहिता 1959 या किसी अधिनियमिति की अधीन पंजीकृत किए जाने वाले मामलोें में जमा की जाने वाली कोर्ट फीस, इश्तहार शुल्क एवं तलवाना आदि को समाप्त कर प्रकरण पंजीयन की फीस मात्र 100 रुपए निर्धारित की गयी है। राजस्व न्यायालयों में प्रस्तुत किए जाने हेतु आवेदन लोक सेवा केन्द्र एवं एमपी आॅनलाईन कियोस्क के माध्यम से भी जमा किए जाते हैं। इन केन्द्रों द्वारा भी प्रकरण पंजीयन फीस मात्र 100 रुपए निर्धारित है। शासन द्वारा अभिलेखों की प्रतिलिपि हेतु निर्धारित दरें मध्यप्रदेश भू राजस्व संहिता (भू-सर्वेक्षण  तथा भू-अभिलेख) नियम 2020 में अनुसूची-04 में निर्धारित की गयी है।

उन्होंने बताया कि खसरा एक साला/खसरा पांच साला/खाता जमाबंदी (खतौनी)/ अधिकार अभिलेख/खेवट (केवल पुराने अभिलेख जो स्केन हो चुके है), वाजिल-उल-अर्ज निस्तार पत्रक, ए-4 साइज में नक्शे की प्रतिलिपि, नामांतरण पंजी की प्रति (ए-4 आकार में), किसी राजस्व प्रकरण में आदेश की प्रति/किसी राजस्व प्रकरण में आदेश पत्रिका की प्रति/राजस्व प्रकरण पंजी की प्रति (ए-4 आकार में) (01 जनवरी वर्ष 2016 के पश्चात के समस्त राजस्व प्रकरण), हस्तलिखित खसरा पंचसाला (स्कूल की गई प्रति ए-4 आकार में) तथा हस्तलिखित राजस्व प्रकरण पंजी (स्कैन की गयी प्रति ए-4 आकार में) के लिए पहले पृष्ठ के लिए फीस 30-30 रुपए तथा प्रत्येक पश्चातवर्ती पृष्ठ के लिए फीस 15-15 रुपए निर्धारित की गयी है।

Related Articles

Close