देश

शरजील इमाम को हाईकोर्ट से नहीं मिली जमानत

नई दिल्ली

जेएनयू के पूर्व छात्र और राजद्रोह के आरोपी शरजील इमाम को दिल्ली हाईकोर्ट से बड़ा झटका लगा है. दिल्ली हाईकोर्ट ने शरजील इमाम को जमानत देने से इनकार कर दिया है. साथ ही दिल्ली की साकेत कोर्ट के फैसले को बरकरार रखा है. साकेत कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को शरजील इमाम के खिलाफ अनलॉफुल एक्टिविटीज प्रिवेंशन एक्ट (यूएपीए) के तहत दर्ज मामले में जांच पूरी करने के लिए 90 दिन का और समय दिया था.

90 दिन पूरे होने से 2 दिन पहले दिल्ली पुलिस ने साकेत कोर्ट में जांच को पूरा करने के लिए 3 महीने का समय और मांगा था, जिसकी कोर्ट ने इजाजत दे दी थी. निचली अदालत के इसी आदेश को शरजील इमाम ने दिल्ली हाईकोर्ट में चुनौती दी थी और जमानत मांगी थी. हाईकोर्ट में शरजील इमाम की याचिका खारिज होने से दिल्ली पुलिस को मामले की जांच के लिए 6 महीने का समय मिल गया है. हालांकि जांच के लिए दिल्ली पुलिस को दिया गया, 6 महीने का वक्त जुलाई के आखिरी हफ्ते में खत्म हो रहा है.

दिल्ली हाईकोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि इस मामले में शरजील इमाम पर गंभीर आरोप हैं और फिलहाल पुलिस की जांच पूरी नहीं हो सकी है. ऐसे में चार्जशीट दाखिल होने से पहले शरजील इमाम को जमानत नहीं दी जा सकती. याचिका खारिज होने के बाद अब राजद्रोह के आरोपी शरजील इमाम को चार्जशीट दाखिल होने से पहले जमानत नहीं मिल पाएगी. पुलिस ने शरजील इमाम को 28 जनवरी को गिरफ्तार किया था.

आपको बता दें कि शरजील इमाम पर सीएए और एनआरसी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान भड़काऊ भाषण देने का आरोप है. कई राज्यों की पुलिस के साथ ही दिल्ली पुलिस भी इस मामले में जांच कर रही है. इस मामले में शरजीत इमाम के खिलाफ यूएपीए के तहत मुकदमा चल रहा है.

दिल्ली हाईकोर्ट ने राजद्रोह के आरोपी और जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्र शरजीत इमाम की याचिका पर फैसला 25 जून को सुरक्षित कर लिया था. शरजील इमाम ने दिल्ली हाईकोर्ट में साकेत कोर्ट के 25 अप्रैल 2020 के उस आदेश को चुनौती दी है, जिसमें पुलिस को मामले की जांच के लिए ज्यादा समय दिया गया है.

Related Articles

Close