देश

 कोरोना में रेमडेसिवीर और डेक्सामेथासोन ही प्रभावी: हार्वर्ड के डॉ आशीष झा

 
नई दिल्ली 

रेमडेसिवीर और डेक्सामेथासोन ही केवल दो दवाएं हैं जो कोरोना वायरस के खिलाफ एक हद तक प्रभावी हैं. ये कहना है जाने माने हेल्थ एक्सपर्ट डॉ. आशीष झा का. हार्वर्ड ग्लोबल हेल्थ इंस्टीट्यूट के निदेशक डॉ आशीष झा ने कहा कि कोरोना के खिलाफ मौजूदा लड़ाई में इन दो दवा के अलावा कोई भी प्रभावी नहीं है. हमारे पास उन दोनों के लिए काफी अच्छे सबूत भी हैं.  हुए डॉ. आशीष झा ने कहा कि दोनों की केवल एक ही स्टडी है और ऐसा नहीं है कि उन दोनों के सबूत कोई बहुत महान हैं, लेकिन काफी अच्छे हैं और इस तरह की कठिन परिस्थिति में हमें उनको मंजूरी देनी चाहिए.उन्होंने कहा कि बाकी सब अटकलें हैं और मुझे किसी अन्य दवा के बारे में नहीं पता जो प्रभावी हो. डॉ आशीष झा ने कहा कि मुझे लगता है कि अन्य दवाओं की स्टडी और रिसर्च की जानी चाहिए.
 
तो ये दो दवाएं क्या करती हैं और वे वायरस से बेहतर तरीके से निपटने में कैसे मदद करती हैं? इस सवाल के जवाब में डॉ आशीष झा ने कहा कि डेक्सामेथासोन एक स्टेरॉयड है और यह इम्युन सिस्टम को दबा देता है. ऐसे में स्पष्ट सवाल यह है कि एक संक्रमण में आप इम्युन सिस्टम को दबाना क्यों चाहेंगे? ऐसा इसलिए है, क्योंकि हमने पिछले तीन से चार महीनों में जो सीखा है, उसके आधार पर ऐसा प्रतीत होता है कि रोग के दो चरण हैं. पहला चरण जहां शरीर में वायरस तेजी से बढ़ता है और फिर एक दूसरा चरण होता है जब आपका इम्युन सिस्टम उस वायरस पर प्रतिक्रिया देता है और वह बहुत आक्रामक तरीके से रियक्ट करता है और आपके शरीर को नुकसान पहुंचाना शुरू कर देता है. तो ऐसे में डेक्सामेथासोन उस आक्रामक प्रतिक्रिया को रोकता है.
 
'रेमडेसिवीर वायरस को दोहराने से रोकता है'
डॉ. आशीष झा ने आगे कहा कि डेक्सामेथासोन के साथ एक प्रमुख मुद्दा हम ये देख रहे हैं कि यदि आप इसे बीमारी की शुरुआती चरण में देते हैं, तो यह वास्तव में हानिकारक साबित होता है. यह केस को बिगाड़ सकता है, क्योंकि बीमारी की शुरुआत में इम्युन सिस्टम को अच्छे से काम करने की आवश्यकता होती है. उन्होंने कहा कि मुझे इस बात की चिंता है कि यदि लोग केवल इस तथ्य को देखते हैं कि डेक्सामेथासोन को एक दवा के रूप में अनुमोदित किया जाता है और डॉक्टर के लिखने पर इसे लेना शुरू कर दिया जाता है तो ये काफी हानिकारक होगा.
 
ऐसे में यहां पर रेमडेसिवीर आता है. रेमडेसिवीर वायरस को दोहराने से रोकता है, जिससे शरीर में वायरस का विकास रुक जाता है. इसलिए, रेमडेसिवीर उन लोगों के लिए उपयोगी है जो बीमारी के शुरुआती चरण का सामना कर रहे हैं और डेक्सामेथासोन उन लोगों के लिए उपयोगी है, जिन्हें शरीर के अंदर बीमारी के बाकी के चरणों से निपटना है.

Related Articles

Close