देश

अब दिल्ली की तर्ज पर राज्य सरकारें दोगुने टेस्ट की तैयारी में जुटीं

 नई दिल्ली 
संक्रमित मरीजों की तलाश के लिए राज्य सरकारें अब दिल्ली की तर्ज पर टेस्ट दोगुना करने की तैयारी कर रही हैं। आंध्र प्रदेश सरकार ने अगले 90 दिन में घर-घर जाकर सबका टेस्ट करने का ऐलान किया है। ऐसा करने वाला आंध्र प्रदेश पहला राज्य होगा। वहीं, महाराष्ट्र, यूपी, हरियाणा, छत्तीसगढ़ और गुजरात में बड़ी संख्या में रैपिड एंटीजन टेस्ट शुरू हो गया है। पश्चिम बंगाल और झारखंड सरकार ने भी तुरंत टेस्ट की संख्या बढ़ाने का निर्देश दिया है।

आंध प्रदेश में सबका टेस्ट: आंध्र प्रदेश की सरकार शुरू से ही आक्रामक टेस्टिंग, मरीजों से जुड़े लोगों की तलाश और संक्रमितों का समय पर इलाज करने में जुटी हुई है। गंभीर मामलों के लिए निजी अस्पतालों को कोविड अस्पताल बना दिया है और दूसरे अस्पतालों को हल्के लक्षण वाले मरीजों के लिए, कोविड केयर सेंटर में तब्दील कर दिया है।
 

हरियाणा में एंटीजन टेस्टिंग शुरू: हरियाणा ने कोरियाई कंपनी को एक लाख एंटीजन टेस्ट किट खरीदा है। बुधवार को फरीदाबाद, गुरुग्राम में परीक्षण भी शुरू कर दिए गए। सबसे पहले हॉटस्पॉट इलाकों और श्रमिकों व स्वास्थ्यकर्मियों का टेस्ट किया जाएगा। इसके बाद राज्यभर में कोरोना के लक्षण वाले सभी लोगों की जांच होगी।

यूपी में गांव-वार्ड तक परीक्षण होगा
सरकार ने ज्यादा से ज्यादा एंटीजन टेस्ट करने के आदेश दिए हैं। एक लाख टीम बनाई जाएंगी जो हर हफ्ते संर्क्रमण वाले इलाकों में जाएंगी। गांवों में ब्लाक और ग्राम पंचायत स्तर पर और शहरी क्षेत्रों में हर वार्ड में जांच की सुविधा होगी। बुधवार से बड़ी संख्या में रैपिड एंटीजन टेस्ट हो रहे हैं। प्रदेश में करीब 18 हजार टेस्ट रोज हो रहे जबकि दो हफ्ते पहले तक 13 से 15 हजार सैंपल रोजाना जांचे जा रहे थे।

प्रति दस लाख लोगों पर कहां कितने टेस्ट और कितने मरीज
वल्र्डोमीटर के मुताबिक, देश में प्रति दस लाख लोगों पर औसतन 5,329 लोगों का टेस्ट किया गया है लेकिन कई राज्य इससे काफी पीछे हैं। यूपी में इसके आधा ही टेस्ट परीक्षण हुआ है तो बिहार में एक तिहाई से भी कम। हालांकि, दोनों राज्यों में मामले आबादी के लिहाज से काफी कम हैं लेकिन विशेषज्ञों का मानना है कि टेस्टिंग बढ़ाई जानी चाहिए। इसलिए केंद्र और राज्यों की सरकारें तेजी से टेस्ट कराने की कोशिश में लगी हैं।

महाराष्ट्र में टीमें लगाकर नमूने लिए जाएंगे
महाराष्ट्र सरकार मुंबई, ठाणे और नागपुर में बड़ी संख्या में रैपिड एंटीजन टेस्ट करने जा रही है। मुंबई नगर निगम ने एक लाख टेस्टिंग किट का आर्डर दिया है। स्वास्थ्यमंत्री राजेश टोपे ने बताया कि महज कुछ दिनों में राज्य में टेस्टिंग लैब की संख्या दोगुनी की गई है अब 100 से ज्यादा लैब में परीक्षण किए जा रहे हैं। कंटेनमेंट जोन में टीमें लगाकर नमूने लिए जा रहे हैं, इनकी संख्या जल्द ही बढ़ाई जाएगी। मुंबई के साथ ठाणे, नागपुर में बड़ी संख्या में टीमें लगाई जा रही हैं। 

सबसे ज्यादा टेस्ट करने वाले राज्य

तमिलनाडु    9,44,352
महाराष्ट्र    8,26,139
राजस्थान    7,26,077
आंध्र प्रदेश    7,14,187
उत्तर प्रदेश    5,88,186
कर्नाटक    5,26,538
दिल्ली    4,01,648

स्रोत: कोविड-19इंडिया आंकड़े:23 जून तक

Related Articles

Close