खेल

धोनी के चेहरे से लगा, वह भारत-इंग्लैंड विश्व कप मैच जीतना चाहते थे: माइकल होल्डिंग

 लंदन 
इंग्लैंड के ऑल राउंडर बेन स्टोक्स ने हाल में अपनी किताब में विश्व कप-2019 में भारत का इंग्लैंड के साथ खेले गए मैच में रनों के लक्ष्य का पीछा किए जाने पर सवाल उठाया था। लेकिन इस मामले ने उस समय तूल पकड़ लिया, जब पाकिस्तान के एक पूर्व खिलाड़ी ने कहा कि पाकिस्तान को नॉकआउट में पहुंचने से रोकने के लिए भारत जानबूझकर इंग्लैंड से हारा था। हालांकि अब वेस्टइंडीज के पूर्व तेज गेंदबाज माइकल होल्डिंग ने भी इस मामले में अपनी राय रखी है। 

माइकल होल्डिंग ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा, “ईमानदारी से कहूं तो बहुत से लोग वो मैच देख रहे थे। लेकिन उनके अंदर बेन स्टोक्स जैसे ख्याल नहीं आए होंगे कि भारत ने जीतने की कोशिश नहीं की।” 

 उन्होंने कहा, “ये कोई ऐसा मैच नहीं था, जिसे भारत को जीतना ही था। लेकिन मुझे नहीं लगता कि कोई ये कहेगा कि टीम की रणनीति है कि हमें इस मैच में हारना है। मैंने मैच देखा और ऐसा लगा कि भारत अपना शत-प्रतिशत नहीं दे रहा है।”  

पूर्व तेज गेंदबाज ने कहा, “लेकिन ये कोई मुद्दा नहीं है कि वो जीतना नहीं चाहते थे। धोनी के चेहरे से लग रहा था कि वो इस मैच को किस कदर जीतना चाहते हैं। तो मेरे हिसाब से नहीं लगता कि टीम का ये निर्णय होगा कि हमें हारना है।”
 
बता दें कि इस विवाद के बढ़ने पर बेन स्टोक्स ने सफाई देते हुए ट्वीट किया था, ''आपको यह नहीं मिलेगा, क्योंकि मैंने ऐसा कभी कहा ही नहीं है। 'शब्दों को तोड़ना और मरोड़ना' या 'क्लिक बेट इसको ही कहते हैं।''
 
दरअसल, वर्ल्ड कप के वक्त भी पूर्व पाकिस्तानी कप्तान वकार यूनुस ने कहा था कि भारत ने इंग्लैंड से जानबूझकर मैच हारा है। उन्होंने कहा था कि भारत ने जानबूझकर इस मैच को फेंक दिया है। वहीं, बेन स्टोक्स की किताब 'ऑन फायर' में इस मैच का जिक्र आने के बाद पूर्व ऑल राउंडर अब्दुल रज्जाक ने चर्चा के दौरान यह दावा किया है कि भारत जानबूझकर इंग्लैंड से हार गया था ताकि पाकिस्तान आगे न जा सके। 

रज्जाक ने कहा, ''इसमें कोई शक नहीं, हमने उस वक्त ही यह बोला था। सारे लोग कह रहे थे, जितने क्रिकेटर हैं सब कह रहे थे। एक आदमी छक्का मार सकता है, चौका मार सकता है लेकिन फिर भी वह गेंद को रोक रहा है। तो पता तो चल जाता है ना।'' 

आईपीएल 13 हो सकता है यूएई में, ECB ने बीसीसीआई को दिया ऑफर
पूर्व लेग स्पिनर मुश्ताक अहमद ने भी यह कहा, ''उन्हें क्रिस गेल, जेसन होल्डर और आंद्रे रसेल ने भारत की इंग्लैंड के खिलाफ हार के बाद यह कहा था कि भारतीय टीम पाकिस्तान को सेमीफाइनल में नहीं देखना चाहती।''

Related Articles

Close