भोपाल

कामचोरी पर DGP की फटकार, टाइमिंग का रखे ख़याल नहीं तो होगी कार्रवाई

भोपाल
लंच के बाद पुलिस मुख्यालय नहीं आने वाले अफसर, लंच पर जाकर दो घंटे बाद पुलिस मुख्यालय आने वाले अफसर और ड्यूटी पर होने के बाद भी अक्सर पुलिस मुख्यालय नहीं आने वाले स्पेशल डीजी, एडीजी और आईजी रैंक के अफसरों को डीजीपी विवेक जौहरी ने फटकार लगाई है। इस संबंध में उन्होंने एक पत्र जारी कर इन सभी को टाइमिंग का ध्यान रखने की हिदायत दी है। हालांकि इस पत्र में उन्होंने किसी अफसर का नाम नहीं लिया, लेकिन उन्होंने यह इसमें जिक्र किया है कि उनके संज्ञान में इन अफसरों के नाम हैं।

शनिवार को डीजीपी विवेक जौहरी ने पुलिस मुख्यालय में पदस्थ स्पेशल डीजी, एडीजी और आईजी रैंक के अफसरों को एक पत्र भेजा। इस पत्र में डीजीपी ने लिखा है कि पुलिस मुख्यालय में तीन अफसर ऐसे हैं जो कि सामान्यत: कार्यालय नहीं आ रहे हैं, 12 अफसर ऐसे हैं जो दोपहर बाद कार्यालय में नहीं आते हैं। वहीं 14 अफसर ऐसे हैं जो भोजन अवकाश पर दो घंटे से ज्यादा का समय लेते हैं। टेलीफोन करने पर ये अफसर अपने कार्यालय में नहीं मिलते हैं। कार्यालयीन समय में उपस्थित नहीं होना चिंताजनक है।

डीजीपी ने इस पत्र में लिखा कि उनके संज्ञान में इन सभी 29 लोगों के नाम हैं। इसके बाद भी वे इन अफसरों के नाम का उल्लेख नहीं कर रहे हैं, ऐसे अफसर खुद समझ जाएं और भविष्य में कार्यालय के समय और कार्य को महत्व देते हुए कार्यालय में अपनी उपस्थिति सुनिश्चित करें। उन्होंने इस पत्र में यह भी लिखा कि वरिष्ठ अधिकारियों का कार्यालय में उपस्थित नहीं रहने एवं कार्य को महत्व नहीं दिए जाने से अधीनस्थों की कार्यप्रणाली पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। शाखा के प्रभारी होने के नाते कार्यालयीन समय में उपस्थित रहकर अपने दायित्वों का निर्वहन करें।

पत्र में डीजीपी ने लिखा कि पुलिस मुख्यालय में कार्यालयीन समय सुबह 10.30 से शाम 5.30 तक का है। वहीं लंच का समय दोपहर 2 से 2.30 बजे तक का है।