देश

जम्मू-कश्मीर के कठुआ में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर मिला ‘जासूस’ कबूतर, ग्रामीणों ने पकड़ा

कठुआ
कोरोना संकट के बीच भारत को अंतरराष्ट्रीय सीमा पर लगातार चौकस रहना पड़ रहा है. जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास एक कबूतर पकड़ा गया है जिसके बारे में माना जा रहा है कि उसे पाकिस्तान में प्रशिक्षित किया गया है. कठुआ के एसएसपी शैलेंद्र मिश्रा ने बताया कि कठुआ में भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय सीमा से सटे मनयारी गांव के ग्रामीणों को सीमा के पास एक कबूतर मिला है. अधिकारियों को शक है कि इस कबूतर को पाकिस्तान में प्रशिक्षित किया गया हो सकता है. पहले भी पाकिस्तान जासूसी के लिए कबूतर का इस्तेमाल करता रहा है. इसके अलावा पाकिस्तान की ओर से गैरकानूनी तरीके से ड्रोन, गुब्बारे आदि भारत की सीमा में भेजा जाता रहा है. पाकिस्तान की कोशिश इन चीजों से भारतीय सीमा में जासूसी कराने की होती है.

पिछले साल सितबंर में राजस्थान के बीकानेर में पाकिस्तान से सटी अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास सुरक्षा एजेंसियों ने एक संदिग्ध कबूतर को पकड़ा था. सुरक्षा एजेंसियों को शक था कि कबूतर के जरिए पाकिस्तान भारत के सुरक्षा उपायों में सेंध लगाने की कोशिश में लगा है. यह संदिग्ध कबूतर बीकानेर के निवासी सुखदेव सिंह बावरी की खेत में पेड़ पर मिला, जिसके बाद अधिकारी वहां पहुंचे. कबूतर के पंखों पर उर्दू में उस्ताद अख्तर और 5 से शुरू होने वाली 10 अंकों की एक संख्या लिखी हुई थी.

Related Articles

Close