भोपाल

राजधानी में 3 मंजिला इमारत में लगी भीषण आग

भोपाल
 मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल  के बाणगंगा इलाके में तीन मंजिला इमारत में आग लगने से अफरा-तफरी फैल गई. आग इतनी भीषण थी कि उसके धुएं का गुबार आसमान तक छा गया. जिस तीन मंजिला इमारत में ये आग लगी उसमें बिजली के उपकरणों का गोदाम था. घटना के वक्त इमारत में कोई भी मौजूद नहीं था. बिल्डिंग के सेकेंड और थर्ड फ्लोर तक फैली आग का धुआं दूर से दिखाई दे रहा था. घनी आबादी वाले रमा नगर में आग के धुएं के कारण आसमान में अंधेरा सा छा गया था. यह देख आस-पास के इलाके और बिल्डिंगों में रहने वाले लोग भयभीत हो गए.

आग की सूचना मिलने पर फायर ब्रिगेड की गाड़ियां मौके पर पहुंची. उन्हें आग पर काबू पाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी. आग बुझाने के लिए नगर निगम के दस्ते को दूसरी बिल्डिंगों के सहारे और क्रेन के जरिए ऊपर तक जाना पड़ा. बिल्डिंग में छोटी सीढ़ियों के कारण पानी अंदर से नहीं फेंका जा सका. जिसके कारण दोपहर दो बजे बिल्डिंग में लगी आग शाम को शाम पांच बजे के बाद बुझाया जा सका.

स्थानीय निवासियों के मुताबिक गुुरुवार सुबह से बिल्डिंग से अजीब सी बदबू आ रही थी, लेकिन दोपहर दो बजे के लगभग धुंए का गुब्बार बाहर आने से इमारत में आग लगने का पता चला.

प्लास्टिक में आग लगने से लोगों को सांस लेने में दिक्कत

आग की सूचना मिलने पर आधा दर्जन से ज्यादा फायर ब्रिगेड की गाड़ियां मौके पर पहुंचीं. उन्होंने खासी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया. लोगों का कहना है कि रिहाइशी इलाका होने के बाद भी यहां इस तरीके से गोदाम को अनुमति दिया जाना ठीक नहीं है. प्लास्टिक में आग लगने से लोगों को सांस लेने में परेशानी आ रही थी. तीसरी मंजिल पर जो कारखाना और गोदाम था उसकी छत टीन की चादरों से बनी थी जिसे तोड़ने के लिए नगर निगम के अमले को खासी मशक्कत करना पड़ी.

लॉकडाउन में आग को देखने के लिए लगी लोगों की भीड़
रेड जोन होने के कारण भोपाल में टोटल लॉकडाउन है. ऐसे में घनी आबादी वाले इलाके में आग लगने पर लोग घरों से बाहर निकल आए और सोशल डिस्टसिंग भुलाकर आग को देखते नजर आए. इस दौरान लोगों को हटाने के लिए पुलिस को मशक्कत करना पड़ी. पुलिस ने इस दौरान लाउडस्पीकर से अनाउंस कर लोगों को अपने घरों में ही रहने को कहा. जिस बिल्डिंग में आग लगी उसमें बिजली के उपकरणों का सामान था, जो आग में जलकर पूरी तरह से खाक हो गया. आग की वजह से लाखों रुपये के नुकसान की आशंका जताई जा रही है.

Tags

Related Articles

Close